बाबूलाल  मरांडी पहले अपने गिरेबान में झांके : विजय हांसदा
बाबूलाल मरांडी पहले अपने गिरेबान में झांके : विजय हांसदा
झारखंड

बाबूलाल मरांडी पहले अपने गिरेबान में झांके : विजय हांसदा

news

दुमका, 20 दिसंबर (हि.स.)। मुंबई में एक मॉडल के साथ साल 2013 में हुए दुष्कर्म प्रकरण में ताजा ट्विस्ट के बाद झारखंड की राजनीति गरमा गई है। इस मुद्दे को लेकर भाजपा मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को घेरने में जुट गई है। भाजपा विधायक दल के नेता पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी पिछले दो दिनों से संवाददाता सम्मेलन कर मुख्यमंत्री से इस्तीफा देने और सीबीआइ जांच की मांग कर रहे हैं। वहीं दूसरी ओर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर लगाये गए गंभीर आरोप पर पलटवार करते हुए झामुमो ने भाजपा को षड़यंत्र एवं कुंठित मानसिकता का परिचायक बताया है। रविवार को प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए झामुमो के सांसद विजय हांसदा ने पलटवार करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी को पहले अपने गिरेबान में झांकने की नसीहत दी है। उन्होंने कहा है-बाबूलाल जब मुख्यमंत्री थे तो दुमका में क्या करते थे ? यह जनता जानती है। मुंबई मॉडल दुष्कर्म प्रकरण को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने शनिवार को दुमका में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर सीधे हमला बोला था। इसके बाद वे पाकुड़ चले गए। उनके जाने के बाद शनिवार की देर रात मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन दुमका पहुंचे। उनके साथ बड़ी संख्या में झामुमो के नेता भी थे। रविवार को सर्किट हाउस में संवाददाता सम्मेलन कर झामुमो नेताओं ने बाबूलाल पर हमला किया। भाजपा पर गंदी राजनीति करने का आरोप लगाया। राजमहल के सांसद विजय हासंदा ने कहा-बाबूलाल पहले अपनी गिरेबां में झांक कर देखें। जब मुख्यमंत्री थे तब दुमका में क्या करते थे ? झामुमो के केंद्रीय महासचिव विधायक सुदिव्य सोनू ने कहा कि सरकार की छवि को बिगाड़ने के लिए षड्यंत्र किया जा रहा है। उपचुनाव के समय भी भाजपा ने तीन माह में सरकार गिरा देने का एलान किया था। अब बाबूलाल मरांडी सरकार के खिलाफ षडयंत्र कर रहे हैं। झामुमो नेता जिस समय संवाददाता सम्मेलन कर रहे थे उस समय मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सर्किट हाउस में ही माैजूद थे। हिन्दुस्थान समाचार/ नीरज-hindusthansamachar.in