पुलिस मुखबिरी का आरोप लगाकर नक्सलियों ने एक को मौत के घाट उतारा
पुलिस मुखबिरी का आरोप लगाकर नक्सलियों ने एक को मौत के घाट उतारा
झारखंड

पुलिस मुखबिरी का आरोप लगाकर नक्सलियों ने एक को मौत के घाट उतारा

news

रांची, 17 जुलाई (हि.स.) । रांची के तमाड़ थाना क्षेत्र के मनागोड़ा जंगल के समीप से शुक्रवार को महावीर सिंह मुंडा (35) का शव पुलिस ने बरामद किया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार तमाड़ डोंगिदिह गांव निवासी महावीर सिंह मुंडा गुरुवार को अपने खेत में धान रोपनी कर रहे थे। वह परिवार के साथ हल चला रहे थे । इसी दौरान चार युवक वहां पहुंचे और जबरन उसे पिस्तौल की नोक पर लेकर चले गए। शुक्रवार को मनागोड़ा जंगल के समीप से उसका शव बरामद किया गया। नक्सलियों ने पुलिस मुखबिरी का आरोप लगाकर महावीर को मौत के घाट उतार दिया। घटनास्थल पर माओवादियों ने पोस्टर छोड़कर घटना की जिम्मेवारी ली है। पोस्टर में माओवादियों ने कहा है कि पुलिस की मुखबिरी करने का यही अंजाम होगा। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और जांच पड़ताल कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने घटनास्थल से माओवादियों के पोस्टर भी जब्त किए हैं। एसडीपीओ अजय कुमार ने बताया कि पूरे मामले की जांच की जा रही है। उल्लेखनीय है कि 29 जून को भी देवानंद सिंह मुंडा की नक्सलियों ने पुलिस मुखबिरी का आरोप लगाकर हत्या कर दी गई थी। हिंदुस्थान समाचार/ विकास/ विनय-hindusthansamachar.in