पुलिस ने भाजपा नेता सतीश सिंह हत्याकांड मामले का किया उद्भेदन, 4 अपराधी गिरफ्तार
पुलिस ने भाजपा नेता सतीश सिंह हत्याकांड मामले का किया उद्भेदन, 4 अपराधी गिरफ्तार
झारखंड

पुलिस ने भाजपा नेता सतीश सिंह हत्याकांड मामले का किया उद्भेदन, 4 अपराधी गिरफ्तार

news

धनबाद, 17 सितंबर (हि.स.) । धनबाद में भाजपा नेता सतीश सिंह हत्याकांड मामले का पुलिस ने गुरुवार को उद्भेदन किया । इस हत्याकांड में पुलिस ने शूटर बाबू राजा चंद्र प्रकाश समेत कुल 4 अपराधियों को गिरफ्तार किया है। उनके पास से पुलिस ने एक देसी पिस्तौल, चार जिंदा गोली, एक मैगजीन, सैमसंग कंपनी का मोबाइल, पल्सर बाइक और हौंडा शाइन मोटरसाइकिल बरामद किया है। धनबाद एसएसपी असीम विक्रांत मिंज ने पत्रकारो से बातचीत करते हुए कहा कि केंदुआडीह थाना क्षेत्र निवासी भाजपा नेता सतीश कुमार सिंह की हत्या विकास सिंह और सतीश गुप्ता ने करवाया है। ये दोनों इस हत्याकांड के मुख्य सरगना और मुख्य साजिशकर्ता है। इस कांड में मुख्य शूटर की भूमिका बाबू राजा चंद्र प्रकाश ने निभाया है। जिसके गोली मारने सतीश की जान गई। पुलिस ने उत्तम महतो और बाबू राजा को बलियापुर थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया है। इन दोनों ने ही अपने बयान में कहा कि इस हत्याकांड को विकास सिंह और सतीश गुप्ता उर्फ गांधी उर्फ समीर ने मिलकर अंजाम दिया है। वह इस कांड में संलिप्त बलियापुर कहीं गौउर रवानी और दामोदरपुर के हरिकेश प्रसाद पासवान को गिरफ्तार किया गया है। जबकि इस कांड में इसके पहले 4 सितंबर को बलियापुर से ही ललन कुमार दास उर्फ ललन दास को हथियार के साथ गिरफ्तार किया गया था। जिसके पास से हत्या में प्रयूक्त की गई बाइक और होंडा कार बरामद की गई थी।धनबाद एसएसपी असीम विक्रांत मिंज के अनुसार इस हत्याकांड के पीछे मुख्य वजह क्या है यह विकास सिंह और सतीश गुप्ता की गिरफ्तारी के बाद ही खुलासा हो पाएगा। वैसे इन दोनों के बीच किसी पुरानी रंजिश और आउटसोर्सिंग विवाद से इंकार नहीं किया जा सकता है। धनबाद एसएसपी के अनुसार पिछले 19 अगस्त 2020 को भाजपा नेता सतीश सिंह को बैंक मोड़ थाना क्षेत्र के विकास नगर के समीप दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या की गई थी। जिसका सीसीटीवी फुटेज में अपराधियों की तस्वीर कैद हो गई थी। इस हत्याकांड के उद्भेदन के लिए सिटी एसपी के नेतृत्व में एसआईटी गठित किया गया था। जिसमें एसआईटी टीम के साथ टेक्निकल टीम एवं अन्य पुलिस अधिकारियों को अनुसंधान में लगाए गया था। टीम ने पूरे मामले में छापेमारी करते हुए अब तक इस कांड से जुड़े 5 अपराधियों को गिरफ्तार किया है। फिलहाल इस कांड के मास्टरमाइंड विकास सिंह और सतीश गुप्ता की धनबाद पुलिस तलाश कर रही है। हिन्दुस्थान समाचार / बिमल /विनय-hindusthansamachar.in