पिछले एक पखवाड़े के अंदर राज्य के विभिन्न हिस्सों में बिजली करंट लगने से डेढ़ दर्जन से अधिक लोगों की मौत हो गयी : कांग्रेस
पिछले एक पखवाड़े के अंदर राज्य के विभिन्न हिस्सों में बिजली करंट लगने से डेढ़ दर्जन से अधिक लोगों की मौत हो गयी : कांग्रेस
झारखंड

पिछले एक पखवाड़े के अंदर राज्य के विभिन्न हिस्सों में बिजली करंट लगने से डेढ़ दर्जन से अधिक लोगों की मौत हो गयी : कांग्रेस

news

रांची, 25 सितम्बर (हि. स.)। झारखंड में बिजली विभाग और केबुल कंपनी केईआई की लापरवाही से लगभग प्रतिदिन हो रही दुर्घटना के खिलाफ प्रदेश कांग्रेस की ओर से जारी चरणबद्ध आंदोलन चलाया जा रहा है। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे, लाल किशोरनाथ शाहदेव और राजेश गुप्ता ने शुक्रवार को बताया कि पिछले एक पखवाड़े के अंदर राज्य के विभिन्न हिस्सों में बिजली करंट लगने से डेढ़ दर्जन से अधिक लोगों की मौत हो गयी है, लेकिन निरंतर हो रही दुर्घटनाओं के बावजूद बिजली विभाग की चुप्पी हैरत में डालने वाली है। वहीं दूसरी तरफ बिजली की अनियमित आपूर्ति को लेकर आम जनों में काफी आक्रोश भी है। प्रवक्ताओं ने बताया कि आंदोलन के अगले चक्र में 29 सितम्बर को राजधानी रांची के अशोक नगर स्थित केबुल कंपनी केईआई के दफ्तर में तालाबंदी किया जाएगा, जबकि 30 सितंबर को विद्युत विभाग के महाप्रबंधक संजय कुमार के आवास के बाहर पोल-खोलो कार्यक्रम के तहत सोशल मीडिया के माध्यम से उनकी करतूतों के बारे में आमजन और आसपास के लोगों को जानकारी दी जाएगी। जिस तरह से राजधानी रांची समेत राज्य के अन्य हिस्सों में बिजली करंट लगने से निरंतर हादसे हो रहे है। सरकार को अविलंब इस मामले में संज्ञान लेना चाहिए और दोषी अधिकारियों-अभियंताओं के खिलाफ कार्रवाई के साथ ही हादसे के शिकार आश्रितों और उनके परिजनों को तत्काल सहायता उपलब्ध करानी चाहिए। पिछले छह महीने में बिजली करंट लगने से सैकड़ों लोगों की मौत हो चुकी है और कई लोग घायल हो चुके है, लेकिन एक भी मामले में बिजली विभाग के दोषी अधिकारियों-अभियंताओं के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई, जिससे उनका मनोबल बढ़ गया है। आये दिन लगातार हादसों की संख्या में बढ़ोत्तरी हो रही है। इसलिए सरकार तत्काल इस मामले का संज्ञान लेकर आवश्यक कार्रवाई करें। हिन्दुस्थान समाचार/कृष्ण/विनय-hindusthansamachar.in