देवघर बाबा मंदिर में इस बार रंगाई पुताई नहीं हो पाई
देवघर बाबा मंदिर में इस बार रंगाई पुताई नहीं हो पाई
झारखंड

देवघर बाबा मंदिर में इस बार रंगाई पुताई नहीं हो पाई

news

देवघर 16 सितंबर (हि. स.)देवघर बाबा मंदिर की साल में दो बार रंगाई और पुताई होती थी लेकिन इस बार ऐसा नहीं हो सका ।जिसकी वजह से बाबा मंदिर प्रांगण स्थित सभी 22 मंदिर का बाहरी हिस्सा काई में तब्दील हो गया है। हालात ऐसे हैं कि सभी मंदिर का बाहरी हिस्सा बदरंग दिखने लगा है। दरअसल देवघर बाबा मंदिर को और पार्वती मंदिर को शिवरात्रि में रंगाई पुताई होती थी और उसके बाद श्रावणी मेला के ठीक पहले सभी 22 मंदिरों की रंगाई कराई जाती थी। लेकिन श्रावणी मेला के आयोजन नहीं होने और लॉकडाउन की वजह से मंदिर बंद था। ऐसे में सभी मंदिर जस के तस रह गए ।लेकिन अब इस के कायाकल्प की तैयारी शुरू कर दी गई है ।देवघर डीसी कमलेश्वर प्रसाद सिंह ने बुधवार को कहा कि लॉकडाउन और श्रावणी मेला के आयोजन नहीं होने की वजह से समय पर यह कार्य नहीं किया जा सका। ऐसे में बारिश के पूर्णतया खत्म होने का इंतजार किया जा रहा है। संभवत एक महीने बाद दुर्गा पूजा के ठीक पहले सभी 22 मंदिरों की रंगाई पुताई की जाएगी। डीसी ने कहा कि मंदिर कहीं से भी जर्जर नहीं हुआ है बस इसके ऊपर पानी की वजह से काई जम गई है जिससे इसका रंग बदरंग हो गया है ।टेंडर किया जा चुका है और संभवत 1 महीने के बाद इसका कार्य शुरू कर दिया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार /सुनील/विनय-hindusthansamachar.in