दिउड़ी मंदिर की व्यवस्था पूर्व की तरह बहाल  हो, प्रशासन हठधर्मिता छोड़े : संजय
दिउड़ी मंदिर की व्यवस्था पूर्व की तरह बहाल हो, प्रशासन हठधर्मिता छोड़े : संजय
झारखंड

दिउड़ी मंदिर की व्यवस्था पूर्व की तरह बहाल हो, प्रशासन हठधर्मिता छोड़े : संजय

news

रांची, 18 अक्टूबर (हि. स.)। श्री महावीर मंडल डोरण्डा केंद्रीय समिति के अध्यक्ष संजय पोद्दार ने कहा है कि प्रशासन की ओर से प्राचीन दिउड़ी मंदिर पर कब्जा करना कहीं ना कहीं हठधर्मिता को दर्शाता है। 300 साल पुरानी यह प्राचीन मंदिर लाखों लोगों के आस्था का केंद्र रहा है। रोज हजारों की संख्या में लोग माता के दर्शन को आते हैं। पोद्दार ने रविवार को कहा कि कई दशक से स्थानीय लोग मंदिर की देखरेख और पूजा पाठ करते आए हैं। वहां के स्थानीय लोग कुल देवता के रूप में माता का पूजा अर्चना करते रहे हैं। स्थानीय लोगों द्वारा 300 सालों से पूजा अर्चना सहित मंदिरों की देखरेख और आज भव्य मंदिर का निर्माण हो पाया है। स्थानीय लोग सहित रांची के आसपास और राज्य के बहर से हजारों लोग शादी ब्याह मुंडन उपनयन संस्कार के लिए श्रद्धालु आते हैं। सैकड़ों स्थानीय लोगों का रोजगार यहां से जुड़ा हुआ है। उन्होंने कहा कि मंडल सरकार से मांग करती है कि लाखों लोगों के आस्था का केंद्र दिउड़ी मंदिर को पूर्व की तरह जो व्यवस्था थी उसे बहाल करें, ताकि मंदिर की शांति भंग ना हो। सरकार सत्ता के अहंकार में लोगों के आस्था के साथ खिलवाड़ ना करें। हिन्दुस्थान समाचार/कृष्ण/वंदना-hindusthansamachar.in