झारखंड में बढ़े दुष्कर्म के मामलों पर कब चुप्पी तोड़ेंगे सीएम और राहुल गांधी  :  षड़ंगी
झारखंड में बढ़े दुष्कर्म के मामलों पर कब चुप्पी तोड़ेंगे सीएम और राहुल गांधी : षड़ंगी
झारखंड

झारखंड में बढ़े दुष्कर्म के मामलों पर कब चुप्पी तोड़ेंगे सीएम और राहुल गांधी : षड़ंगी

news

रांची, 15 अक्टूबर ( हि.स.)। झारखंड में बीते दस महीनों के अंतर्गत दुष्कर्म के वारदातों में अप्रत्याशित बढ़ोत्तरी को चिंता का विषय बताते हुए भाजपा ने राज्य सरकार पर जबरदस्त जुबानी हमला बोला है। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता और पूर्व विधायक कुणाल षड़ंगी ने गुरुवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से सवाल किया कि दुष्कर्म के जघन्य और शर्मनाक अपराधों पर भी आख़िर उनकी चुप्पी क्यों है। उन्होंने कहा कि सार्वाधिक आदिवासी, दलित और वंचित वर्ग की बहनों और महिलाओं की अस्मिता लूटी गई है। लेकिन मुख्यमंत्री के खून में ना तो उबाल आया और ना ही सरकार संवेदनशील हुई। भाजपा ने सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि भाजपा शासित प्रदेशों में दुष्कर्म के वारदातों पर हो-हल्ला मचाने वाली कांग्रेस पार्टी आख़िर झारखंड में बेशर्मी से चुप क्यों है। षाड़ंगी ने कांग्रेस के राहुल गांधी को भी लपेटे में लेते हुए पूछा कि उनकी संवेदना हाथरस तक ही सीमित क्यों है ? झारखंड के बरहेट, साहेबगंज या अन्य जिलों के दुष्कर्म के मामलों में आख़िर पीड़िताओं से कब मुलाकात करेंगे। षड़ंगी ने कहा कि राहुल गांधी और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जिस दिन झारखंड की दुष्कर्म पीड़ित बहनों और उनके परिजनों से मुलाकात करेंगे, उनकी अगुवानी करने वे स्वयं जाएंगे। उन्होंने कहा कि दुष्कर्म राजनीति चमकाने के विषय ना बनें बल्कि इस कुकृत्य के विरुद्ध कारगर पहल होनी चाहिए। षड़ंगी ने कहा कि राज्य में दुष्कर्म के वारदातों पर उच्च न्यायालय गंभीर है। भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि स्टेन स्वामी जैसे लोग जिन्हें एनआईए ने आतंकवादियों के साथ संलिप्तता पाया है उसकी गिरफ़्तारी पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को दर्द होता है लेकिन नाबालिग के साथ दुष्कर्म के मामले पर लीपापोती करती अपनी पुलिस पर कार्यवाही नहीं कर पाते हैं। भाजपा ने कहा कि अविलंब राज्य सरकार इन मामलों मे अभियुक्तों को गिरफ्तार कर कड़ी कार्रवाई करे, अन्यथा भाजपा सड़क पर उतरेगी और उग्र आंदोलन को बाध्य होगी। हिंदुस्थान समाचार /विनय/वंदना-hindusthansamachar.in