जिले की हर समस्या पर है कांग्रेस पार्टी की निगाह: कालीचरण
जिले की हर समस्या पर है कांग्रेस पार्टी की निगाह: कालीचरण
झारखंड

जिले की हर समस्या पर है कांग्रेस पार्टी की निगाह: कालीचरण

news

खूंटी, 08 नवम्बर (हि. स. ) । लंबे समय से उपेक्षित अड़की समेत पूरे खूंटी जिले की हर समस्या पर कांग्रेस पार्टी की निगाह है। बारीकियों के साथ हर बात को लेकर कांग्रेस के सभी मंत्रियों और पार्टी आलाकमान से समस्याएं दूर करने की पहल करेंगे। ये बातें कांग्रेस की राष्ट्रीय कमेटी के सदस्य और पूर्व विधायक कालीचरण मुंडा ने कहीं। मुंडा रविवार को तिनतिला पंचायत के कोवा गांव में आयोजित ग्रामीणों की सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि दो दिन के अंदर उपायुक्त से मिलकर तिनतिला पंचायत की समस्याओं पर चर्चा करते हुए उनके सामाधान का अनुरोध करेंगे। उन्होंने कहा कि जल्द ही तिनतिला में कांग्रेस के मंत्रियों और बड़े नेताओं-मोटी समस्याओं के निदान के लिए तिनतिला में विकास शिविर लगाने का अनुरोध करेंगे। मुंडा ने कहा कि समाज को बचाने और विकास के लिए नशापान का त्याग करते हुए बच्चों को शिक्षा देकर समाज को आगे बढ़ाने में अपना योगदान दें। जल संरक्षण के लिए उन्होंने बोरी बांध बनाने और लेमनग्रास की खेती करने का आह्वान किया। घोर नक्सल व विवादित पत्थलगड़ी इलाके में हुई सभा कोवा गांव की परिस्थितियों का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि कालीचरण मुंडा की होने वाली सभा के लिए मुरहू के थानेदार पप्पू कुमार शर्मा के नेतृत्व में 30 मोटरसाइकिलों पर सवार होकर 60 सशस्त्र बल के जवान सुरक्षा के मद्देनजर कोवा गांव पहुंचे थे। नक्सल और विवादित पत्थलगड़ी इलाके के तिनतिला पंचायत में समस्याओं की भरमार है। क्षेत्र की समस्याओं को जानने और उसके सामाधान की कोशिश करने को लेकर कालीचरण मुंडा तिनतिला पंचायत के कोवा गांव पहुंचे। यह गांव जिला मुख्यालय से 35 किमी दूर बीहड़ जंगलों के बीच बसा है। कोवा में तिनतिला पंचायत के रोम्बा तायरबेड़ाए मुरगीडीहए कोपेए रायतोड़ांग आदि गांवों के लगभग 300 से ज्यादा ग्रामीण पहुंचे। जहां कालीचरण मुंडा ग्रामीणों के साथ चटाई पर बैठे और उनसे बातचीत की। कालीचरण मुंडा के साथ कांग्रेस जिलाध्यक्ष रामकृष्णा चौधरीए कांग्रेस सहकारिता प्रकोष्ठ के प्रदेश महासचिव नईमुद्दीन खांए बसंत सुरीन और शिब्लू खां भी थे। ग्रामीणों की मांग वैसे तो तिनतिला पंचायत में काफी समस्याएं हैं। लेकिन प्रारंभ में ग्रामीणों ने मुरूदडीह से चाड़ाडीह वाया मुरगीडीह, तिनतिला, कोवा, रायतोड़ांग सड़क की मरम्मत लगभग 14 किमी, मुरगीडीह से कोपे पक्की सड़क का निर्माण लगभग एक किमी, पसराबेड़ा से दुंदुपीड़ी वाया कोवा लगभग 04 किमी, तिनतिला से पसराबेड़ा लगभग तीन किमी, कोवा से भुरसूडीह लगभग 02 किमी, लंबी सड़क निर्माण की मांग की। ग्रामीणों ने तिनतिला में बंद पड़े सरकारी स्कूल को फिर से शुरू करनेए तिनतिला पंचायत सचिवालय को क्रियाशील करने, मुरगीडीह, कोपे, भुरसूडीह समेत रूरूआंगए चिरूडीह का विद्युतिकरण करने की मांग की। हिन्दुस्थान समाचार/अनिल/ वंदना-hindusthansamachar.in