कोरोना संक्रमित स्थल एवं व्यक्तियों के साथ काम करने वाले, लैब टेक्नीशियन, एंबुलेंस चालक, सफाई कर्मियों को किया जाएगा प्रोत्साहित।
कोरोना संक्रमित स्थल एवं व्यक्तियों के साथ काम करने वाले, लैब टेक्नीशियन, एंबुलेंस चालक, सफाई कर्मियों को किया जाएगा प्रोत्साहित।
झारखंड

कोरोना संक्रमित स्थल एवं व्यक्तियों के साथ काम करने वाले, लैब टेक्नीशियन, एंबुलेंस चालक, सफाई कर्मियों को किया जाएगा प्रोत्साहित।

news

धनबाद , 02 अगस्त (हि.स.)। कोरोना संक्रमित स्थल तथा कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के साथ काम करने वाले लैब टेक्नीशियन, सफाई कर्मी एवं एंबुलेंस चालकों को उनके बहुमूल्य और सराहनीय योगदान के लिए जिला प्रशासन द्वारा प्रोत्साहित किया जाएगा। इस संबंध में उपायुक्त सह अध्यक्ष, जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकार, धनबाद उमा शंकर सिंह ने बताया कि कोरोना महामारी के संक्रमण काल में लैब टेक्नीशियन, सफाई कर्मी तथा एंबुलेंस चालक कोरोना संक्रमित स्थल तथा कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के साथ कोरोना योद्धा के रूप में काम करते हैं। जिला प्रशासन ऐसे कर्मियों की सराहना करता है और उन्हें हर तरीके से मदद करना चाहता है। इसी उद्देश्य से लैब टेक्नीशियन, सफाई कर्मी एवं एंबुलेंस कर्मियों को प्रतिमाह प्रोत्साहन राशि प्रदान कर सम्मानित करने का निर्णय लिया है। उपायुक्त ने बताया कि आरटी पीसीआर में प्रतिदिन 450 से 500 सैंपल की जांच करने वाले को उनके मानदेय का 20%, 500 से 550 को 25% तथा 550 से अधिक सैंपल की जांच करने वाले को मानदेय की 30% प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। ट्रूनेट पर काम करने वाले लैब टेक्नीशियन को 4 से 5 चरण की जांच के लिए 20%, 5 से 6 के लिए 25 तथा 6 से 7 चरण में जांच करने वाले को मानदेय की 30% प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। सैंपल कलेक्शन करने वाले लैब टेक्नीशियन को 25%, सफाई कर्मियों को 2000 रूपये प्रति माह तथा एंबुलेंस चालकों को 50 प्रति ट्रिप पर्यवेक्षक एवं डॉक्टरों की सिफारिश पर दी जाएगी। हिन्दुस्थान समाचार / बिमल चक्रवर्ती / सबा एकबाल-hindusthansamachar.in