किचन गार्डन से होगा कुपोषण  दूरः  डॉ. राजीव कुमार
किचन गार्डन से होगा कुपोषण दूरः डॉ. राजीव कुमार
झारखंड

किचन गार्डन से होगा कुपोषण दूरः डॉ. राजीव कुमार

news

मेदिनीनगर, 07 सितंबर (हि.स.)। किचन गार्डेन निर्माण के लिए लोगों को जागरूक एवं प्रेरित करें, ताकि पलामू से कुपोषण को दूर किया जा सके। लोग जागरूक होंगे, तो अपने खेत-बारी में मानक के अनुसार किचन गार्डन का निर्माण करेंगे। इससे उन्हें सालोभर हरी और ताजी फल-सब्जियां उपलब्ध हो पाएगी। उन्हें बाजार पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा। घर पर ही निशुल्क व पौष्टिक फल व सब्जियां उपलब्ध हो पाएगी। इससे लोगों को फल व सब्जियों में होने वाले खर्च से भी बचाव होगा। यह बातें कृषि विज्ञान केंद्र के वरीय वैज्ञानिक सह प्रधान डॉ. राजीव कुमार ने कही। वे आज कृषि विज्ञान केंद्र में पोषण संवेदी कृषि संसाधन एवं नबोन्मेषण सह प्रशिक्षण कार्यक्रम में बोल रहे थे। उपायुक्त शशि रंजन के निर्देशानुसार राष्ट्रीय पोषण माह के तहत जिला समाज कल्याण विभाग की पहल पर कृषि विज्ञान केंद्र की ओर से प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण में आंगनवाड़ी पर्यवेक्षिका एवं सेविकाओं ने भाग लिया। राष्ट्रीय पोषण माह 30 सितंबर तक चलेगा। इसके तहत लोगों को कुपोषण की समस्या से निपटने के लिए विभिन्न माध्यमों एवं गतिविधियों से जागरूक किया जा रहा है। डॉ. राजीव कुमार ने पोषण कृषि परिचय, उद्देश्य एवं मूल गतिविधियों पर प्रकाश डालते हुए कैलेंडर के अनुसार सब्जियां एवं फलदार पौधे लगाने को लेकर लोगों को जागरूक करने की बातें कहीं। उन्होंने वैसी फल सब्जियों को लगाने के लिए प्रेरित किया, जिससे कुपोषण को दूर किया जा सके। उन्होंने प्रशिक्षण के उद्देश्यों पर चर्चा करते हुए कहा कि किचन गार्डन की फल सब्जियों से शरीर के लिए पोषक तत्वों की कमियों को दूर किया जा सकता है। किचन गार्डन में सालों भर फल सब्जियां मिलेंगे, जिसे खाने से कुपोषण की समस्या दूर की जा सकती है। उन्होंने फल सब्जी में कीट से बचाव एवं उसके प्रबंधन एवं संरक्षण के बारे में भी जानकारी दी। साथ ही बताया कि किस खाद्यान्न में कौन से विटामिन मिनरल्स इत्यादि रहते हैं और उसके खाने से क्या -क्या फायदे हैं। कृषि विज्ञान केंद्र के मुख्य प्रशिक्षक डॉ. रमेश कुमार ने पोषण बागवानी एवं पोषण कैलेंडर का निर्माण एवं उसका उपयोग की जानकारी दी। वहीं डॉ. शैलेंद्र मोहन ने खाद्य पदार्थ में पोषक तत्वों का महत्व पर प्रकाश डाला। दिलीप कुमार पांडेय ने खाद्य पदार्थों का मूल्यवर्धक एवं उसके उपयोग एवं संजय कुमार राम ने खाद्य पदार्थ का घरेलू स्तर पर उपयोग एवं उसके रखरखाव के बारे में जानकारी दी। साथ ही संजय कुमार राम एवं दिलीप कुमार पांडेय ने सभी प्रशिक्षणार्थियों को प्रक्षेत्र भ्रमण कराया गया। हिन्दुस्थान समाचार/संजय/सबा एकबाल-hindusthansamachar.in