कार्य में लापरवाही और अनुशासनहीनता पर कार्रवाई, सात लोगों से मांगा गया स्पष्टीकरण
कार्य में लापरवाही और अनुशासनहीनता पर कार्रवाई, सात लोगों से मांगा गया स्पष्टीकरण
झारखंड

कार्य में लापरवाही और अनुशासनहीनता पर कार्रवाई, सात लोगों से मांगा गया स्पष्टीकरण

news

रांची, 01अगस्त( हि. स.) । सरकारी कार्य में लापरवाही और अनुशासनहीनता मामले में सात लोगों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए स्पष्टीकरण मांगा गया है। इन सभी को 24 घंटे के अंदर अपना स्पष्टीकरण अपर जिला दंडाधिकारी, विधि व्यवस्था अखिलेश सिंह के कार्यालय में देने को कहा गया है। खेलगांव स्टेडियम के एथलेटिक्स स्टेडियम के टावर एक, दो, तीन एवं चार में बनाए गए आइसोलेशन सेंटर में इन लोगों की प्रतिनियुक्ति की गई थी। आइसोलेशन सेंटर को सुचारू रूप से चलाने एवं विधि व्यवस्था संधारण के लिए उपायुक्त और वरीय पुलिस अधीक्षक द्वारा जारी संयुक्त आदेश में सभी को अपनी प्रतिनियुक्ति स्थल पर योगदान देने को कहा गया था ।लेकिन यह सभी कार्यस्थल से अनुपस्थित थे। कार्यस्थल से अनुपस्थित रहने वाले सभी लोगों से स्पष्टीकरण मांगा गया है। इन सभी को पत्र प्राप्ति के 24 घंटे के अंदर अपना स्पष्टीकरण एडीएम लॉ एंड ऑर्डर के ऑफिस में देने को कहा गया है। आचरण और हठधर्मिता के विरुद्ध क्यों नहीं आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 36 के तहत सरकारी कार्य में बाधा एवं अनुशासनहीनता के विरुद्ध विभागीय कार्यवाही के लिए सरकार को अनुशंसा और आपदा प्रबंधन अधिनियम के सन्निहित धाराओं के तहत क्यों ना कार्रवाई की जाए यह पूछते हुए इनसे स्पष्टीकरण मांगा गया है। कर्तव्य स्थल से अनुपस्थित रहने वालों में नरेश दास, डॉक्टर आलोक, धर्मनाथ राम, उज्जवल कुमार, आनंद कुमार तिवारी, बीके वर्मा, और राजेश रजक शामिल हैं। हिंदुस्थान समाचार/ विकास/ विनय-hindusthansamachar.in