आत्महत्या के लिए उकसाने पर  दोषी को सात वर्ष की साज
आत्महत्या के लिए उकसाने पर दोषी को सात वर्ष की साज
झारखंड

आत्महत्या के लिए उकसाने पर दोषी को सात वर्ष की साज

news

जामताड़ा, 24 जुलाई (हि.स.) । अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश द्वितीय बिपिन बिहारी गौतम ने शुक्रवार को आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में आरोपित झरी लाल महतो को सात साल की सजा मुकर्रर की है। जानकारी के अनुसार करमाटांड़ थाना क्षेत्र के तिलावनी गांव के शकुंतला देवी 27 अप्रैल 2015 को तालाब में स्नान करने गई थी। स्नान करके लौटने के क्रम में गांव के झरी लाल महतो ने महिला के साथ छेड़खानी एवं दुष्कर्म का प्रयास किया था, जिसे वह सह नहीं पाई और घर जाकर किरासन तेल छिड़ककर आग लगा कर अपनी जीवन समाप्त करनी चाहि। हालांकि उसे सदर अस्पताल पहुंचाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। मामले में अदालत ने 14 गवाहों का बयान कलमवद्ध कर मामले को सही पाया। और आरोपित झरी लाल महतो को सात साल की सजा सुनायी। हिन्दुस्थान समाचार/ राजकिशोर/ वंदना-hindusthansamachar.in