welcoming-indian-army-personnel-velu-perumal-who-ran-from-kashmir-to-kanyakumari-on-reaching-lakhanpur
welcoming-indian-army-personnel-velu-perumal-who-ran-from-kashmir-to-kanyakumari-on-reaching-lakhanpur
जम्मू-कश्मीर

कश्मीर से कन्याकुमारी तक दौड़ लगाने वाले भारतीय सेना के जवान वेलु पेरूमल का लखनपुर पहुंचने पर किया स्वागत

news

कठुआ, 4 अप्रैल (हि.स.)। ग्रीन इंडिया और वन नेशन वन स्पिरिट उद्देश्य को लेकर कश्मीर से कन्याकुमारी 5000 किलोमीटर क्रॉस कंट्री दौड़ लगाने वाले भारतीय सेना के जवान वेलु पेरूमल का लखनपुर पहुंचने पर मुंसिपल कमेटी के अध्यक्ष रविंद्र शर्मा सीटू, भाजपा युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष गौरव शर्मा गौरी सहित स्थानीय लोगों ने जोरदार स्वागत किया। रविवार को भारतीय सेना के जवान वेलु पेरूमल जोकि कश्मीर से कन्याकुमारी तक करीब 5000 किलोमीटर क्रॉस कंट्री दौड़ लगाने के लिए एक अप्रैल को निकले थे वही रविवार को अपना लक्ष्य तय करते हुए वेलु लखनपुर पहुंचे, जहां पर मुंसिपल कमेटी लखनपुर के अध्यक्ष सहित स्थानीय लोगों ने उनके उत्साह को देखते हुए उनका अभिनंदन किया। इस अवसर पर अध्यक्ष ने माता की चुनरी उनके गले में डालकर उन्हें अपना लक्ष्य तय करने के लिए शुभकामनाएं दी। इसी बीच पत्रकारों को संबोधित करते हुए भारतीय सेना के खिलाड़ी वेलु ने बताया कि ग्रीन इंडिया और वन नेशन वन स्पिरिट उद्देश्य के तहत 5000 किलोमीटर क्रॉस कंट्री दौड़ जोकि कश्मीर से कन्याकुमारी तक 50 दिनों के भीतर लक्ष्य तय करने का फैसला लिया है। उन्होंने बताया कि प्रतिदिन 100 किलोमीटर दौड़ लगाकर 50 दिनों के भीतर अपने लक्ष्य को पूरा करने के लिए आगे बढ़ रहे हैं। जिसमें रविवार को लखनपुर तक 350 किलोमीटर तय कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि स्कूल पड़ते समय से ही दौड़ लगाने का उन्हें शौक था, 15 साल से कई मैराथन में भाग ले चुके हैं, 5 साल से अल्ट्रा मैराथन में भारत की टीम के लिए 1600 किलोमीटर दौड़ लगाकर लिम्का रिकॉर्ड हासिल किया है। इसी को जारी रखते हुए कश्मीर से कन्याकुमारी तक दौड़ को पूरा करके गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाना चाहते हैं। वही इस दौड़ को एलएल मीना नामक अपनी टीम के साथी को समर्पित किया है जिनका पिछले वर्ष निधन हो गया था। वहीं युवाओं को भी प्रेरित करने के लिए संदेश देते हुए कहा कि जो युवा नशे की लत से ग्रस्त हो चुके हैं जा नशे की ओर जा रहे हैं उन्हें उस रास्ते को छोड़ अपने जीवन में खेलों के प्रति और देश के प्रति लक्ष्य तय करना चाहिए और जीवन में देश के प्रति जज्बे की भावना पैदा करनी चाहिए और खेलों के प्रति रुझान बढ़ाना चाहिए। वहीं मुंसिपल कमेटी लखनपुर के अध्यक्ष रविंद्र शर्मा सीटू ने बताया कि जिस प्रकार वेलु देश के प्रति प्रेम और सद्भावना को लेकर कश्मीर से कन्याकुमारी तक दौड़ लगा रहे हैं, 5000 किलोमीटर का लक्ष्य मात्र 50 दिनों के भीतर पूरा करने का जुनून जो भारतीय सेना के जवान ने मन में ठाना है यह काबिले तारीफ है। उन्होंने कहा कि मुंसिपल कमेटी लखनपुर और स्थानीय लोगों की ओर से उन्हें शुभकामनाएं हैं ताकि अपना लक्ष्य पूरा करने में कामयाब हो। हिन्दुस्थान/समाचार/सचिन/बलवान