महाराजा हरि सिंह के जन्मदिवस की छुट्टी घोषित न किए जाने को लेकर श्री अमर क्षत्रिय राजपूत कुमार सभा के सदस्यों ने यूटी सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन
महाराजा हरि सिंह के जन्मदिवस की छुट्टी घोषित न किए जाने को लेकर श्री अमर क्षत्रिय राजपूत कुमार सभा के सदस्यों ने यूटी सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन
जम्मू-कश्मीर

महाराजा हरि सिंह के जन्मदिवस की छुट्टी घोषित न किए जाने को लेकर श्री अमर क्षत्रिय राजपूत कुमार सभा के सदस्यों ने यूटी सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन

news

कठुआ, 12 जुलाई (हि.स.)। महाराजा हरि सिंह के जन्मदिवस 23 सितंबर की छुट्टी घोषित न किए जाने को लेकर कठुआ में श्री अमर क्षत्रिय राजपूत कुमार सभा के सदस्यों ने यूटी सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। रविवार को श्री अमर क्षत्रिय राजपूत कुमार सभा कठुआ के सदस्यों ने यूपी सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। श्री अमर क्षत्रिय राजपूत कुमार सभा के जिलाध्यक्ष रंजीत सिंह पठानिया ने प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व करते हुए कहा कि श्री अमर क्षत्रीय राजपूत कुमार सभा के प्रदेश अध्यक्ष पवन चिब के आदेश अनुसार महाराजा हरि सिंह के जन्मदिन जोकि 23 सितंबर को छुट्टी घोषित ना होने के कारण आज राजपूत बिरादरी बहुत बड़ा आक्रोश जाहिर कर रहे हैं। उन्होंने यूटी सरकार को प्रदर्शन के माध्यम से चेतावनी देते हुए कहा के राजपूत समाज की भावनाओं के साथ खिलवाड़ ना करें। उन्होंने कहा कि आने वाले 23 सितंबर को अगर महाराजा हरि सिंह के जन्मदिवस की छुट्टी घोषित नहीं की गई, तो यूटी सरकार को राजपूत समाज का आक्रोश देखने को मिलेगा और यूटी सरकार को राजपूत समाज का आक्रोश जेलने के लिए तत्पर रहना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि महाराजा हरि सिंह ने समाज के लिए बहुत अच्छे कार्य किए हैं। उन्होंने जम्मू कश्मीर बैंक की स्थापना की, हल चलाकर किसानों को जागरूक किया, समाज में जातिवाद को खत्म किया और इसी के साथ साथ सभी धर्मों को मंदिरों में प्रवेश करवाया है। उन्होंने कहा कि ऐसे महान महाराजा के लिए आज उनके जन्मदिन की एक छुट्टी घोषित करवाने के लिए राजपूत समाज को जद्दोजहद करनी पड़ रही है, यह निंदनीय है। उन्होंने कहा कि इससे पहली 2017 में भी महाराजा हरि सिंह के जन्मदिवस की छुट्टी के लिए एक ज्ञापन सौंपा था, लेकिन उस पर भी कोई निर्णय नहीं लिया गया। इसलिए उन्होंने यूटी सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि आने वाले 23 सितंबर को महाराजा हरि सिंह के जन्म दिवस के उपलक्ष पर अगर छुट्टी घोषित नहीं की गई तो राजपूत समाज का उग्र प्रदर्शन होगा जिसकी जिम्मेवारी जम्मू-कश्मीर यूटी सरकार की होगी। इस अवसर पर अंकुश बड़वाल, बिकेश सिंह पठानिया, रोहित जसरोटिया, जरोवर सिंह, जयदेव सिंह, रंदीप अडोत्रा, अंशु काटल, जोगिंद्र पठानिया, रंजीत सिंह लंगह, सोनू चिब जोगिंद्र चिब सहित अन्य मौजूद रहे। हिन्दुस्थान समाचार/सचिन/बलवान-hindusthansamachar.in