सर्राफा एसोसिएशन के अध्यक्ष बने रमन सूरी, एसोसिएशन को नई ऊंचाइयों पर ले जाने का लिया संकल्प

सर्राफा एसोसिएशन के अध्यक्ष बने रमन सूरी, एसोसिएशन को नई ऊंचाइयों पर ले जाने का लिया संकल्प
raman-suri-becomes-president-of-sarafa-association-pledges-to-take-the-association-to-new-heights

जम्मू, 12 अप्रैल (हि.स.)। सर्राफा एसोसिएशन जम्मू प्रांत (एस.ए.जे) ने सोमवार को शहर के प्रतिष्ठित ज्यूलर एवं प्रसिद्ध सामाजिक कार्यकर्ता रमन सूरी के निर्विरोध अध्यक्ष चुने जाने पर एवं उनके द्वारा नई टीम की घोषणा करने हेतु जनरल हाउस मीटिंग का आयोजन किया। रमन सूरी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) जम्मू-कश्मीर के वरिष्ठ नेता एवं प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य होने के साथ-साथ पर्यटन महासंघ जम्मू के महासचिव भी हैं एवं कई और सामाजिक और धार्मिक संगठनों से जुड़े हुए हैं। एसोसिएशन के चुनाव 25 मार्च 2021 को घोषित किए गए थे। जिसमें रमन सूरी के नामांकन भरने के समय ही भारी संख्या में सदस्य उनके साथ समर्थन में खड़े रहे जिसके उपरान्त किसी भी सदस्य ने अपना नामांकन नहीं भरा और उनके नेतृत्व में अपना विश्वास जताते हुए उन्हें एस.ए.जे के अध्यक्ष पद के लिए निर्विरोध चुना गया। बैठक की कार्रवाई शुरू करने से पहले, सर्राफा एसोसिएशन जम्मू प्रांत के सभी सदस्यों ने अपने नवनिर्वाचित अध्यक्ष रमन सूरी के नेतृत्व में स्वर्गीय परजन कुमार जैन की सेवाओं को याद किया, जिन्होंने कई वर्षों तक सर्राफा एसोसिएशन जम्मू प्रांत के अध्यक्ष के रूप में कार्य किया और हाल ही में उनका स्वर्गवास हुआ था। सदस्यों ने सर्राफा एसोसिएशन जम्मू प्रांत के उपाध्यक्ष के रूप में अपनी सेवाएं देने वाले स्वर्गीय चमन लाल पुरी और सचिव के रूप में कार्य करने वाले स्वर्गीय कृष्ण लाल साहनी को भी अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने दिवंगत आत्माओं की तस्वीरों पर फूल-मालाएं चढ़ाईं और उनको श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए दो मिनट का मौन भी रखा। चुनाव के बाद, यह पहली जनरल हाउस की बैठक थी जिसमें रमन सूरी को अध्यक्ष के रूप में निर्विरोध चुना गया और चुनाव प्रभारी दर्शन लाल एवं वरिष्ठ सदस्यों द्वारा औपचारिक तौर पर उनको अध्यक्ष घोषित किया गया। रमन सूरी ने एसोसिएशन के वरिष्ठ सदस्यों के साथ परामर्श के बाद, अपनी नई टीम की घोषणा करते हुए राकेश महाजन को वरिष्ठ उपाध्यक्ष, दीपक जैन को उपाध्यक्ष, विजय कुमार वर्मा को महासचिव, सुमित हांडा को सचिव और सुरिंदर कुमार जैन को कोषाध्यक्ष घोषित किया। वहीं एक सलाहकार समिति भी गठित की गई, जिसमें विजय सर्राफ, अजय टल्ला, संजय जैन, दर्शन लाल ढ़ल्ला, चमन लाल खजूरिया और राजेश साहनी को सलाहकार घोषित किया गया। किसी भी एसोसिएशन को सुचारु रूप से चलाने के लिए कार्यकारिणी समिति की महत्वपूर्ण भूमिका रहती है, जिसका गठन भी साथ ही साथ करते हुए अंकुर सूरी, अमन जैन, जुगल किशोर बब्बर, विशाल जैन एवं राजीव जैन को कार्यकारिणी समिति का सदस्य घोषित किया गया। जनरल हाउस में उपस्थित सभी सदस्यों ने नवगठित इकाई के लिए पहले अपनी सहमति दी, फिर रमन सूरी और उनकी टीम को एसोसिएशन के वरिष्ठ सदस्यों द्वारा माता की चुनरी भेंट की गई और उनको आश्वस्त किया कि उनका समर्थन सदैव पूरी टीम के साथ रहेगा ताकि टीम बेहतर कार्य कर सके, जिससे सभी सदस्यों के कारोबार में वृद्धि हो और एसोसिएशन मज़बूत हो सके। नवनियुक्त महासचिव विजय कुमार वर्मा जो पहले भी कई वर्षों से एसोसिएशन में सचिव एवं महासचिव के पद पर अपनी सेवाएं दे चुके हैं, ने अपने संबोधन के दौरान रमन सूरी की भाजपा नेता के रूप में, महासचिव पर्यटन महासंघ जम्मू के रूप में एवं उनके सभी सामाजिक कार्यों के लिए प्रशंसा करते हुए उनके बारे में विस्तार से सभी सदस्यों को अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि सर्राफा एसोसिएशन शुरू से ही अपने सभी सदस्यों के साथ कंधे से कंधा मिला कर कार्य करती रही है और सभी सदस्यों ने भी सदा एसोसिएशन का सम्मान अपने अच्छे कार्यों से बढ़ाया है, इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए उन्होंने कहा कि नई टीम पूर्ण रूप से सक्षम है और आने वाले समय में कई महत्वपूर्ण कार्य करने का प्रण लेती है। रमन सूरी ने सभी सदस्यों को संबोधित करते हुए उनके विश्वास और समर्थन के लिए धन्यवाद देते हुए कहा कि वे उनके लिए सदैव उपलब्ध रहेंगे। उन्होंने सर्राफा एसोसिएशन के सदस्यों से नैतिकता के साथ अपने व्यवसाय करने और अपने सिद्धांतों से कभी समझौता नहीं करने का आग्रह किया। उन्होंने उन्हें आश्वासन दिया कि वह उनके कल्याण के लिए काम करते रहेंगे और यह भी प्रयास करेंगे कि एसोसिएशन का अपना क्लब भी बन सके, जिससे सभी सदस्य एक दूसरे से मिलते रहें और आपसी रिशतों की नींव और अधिक मज़बूत हो सके। रमन सूरी ने कहा कि सर्राफा एसोसिएशन के विभिन्न पदों पर रहे वरिष्ठ एवं प्रतिष्ठित सदस्यों के द्वारा चलाए गए कार्यों को तो आगे बढ़ाया ही जाएगा, साथ ही साथ समुदाय के सिद्धांतों और मुद्दों को संबंधित अधिकारियों के साथ समय-समय पर सही परिपेक्ष्य में रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि हालांकि कोविड-19 महामारी ने व्यापारिक समुदाय को बहुत पीछे धकेल दिया है, लेकिन सभी दिशानिर्देशों का पालन करते हुए हमारी एसोसिएशन के सदस्य अपनी कड़ी मेहनत से एवं सूझ-बूझ से जल्दी ही पटरी पर वापस आ जाएंगे। उन्होंने कहा कि जम्मू प्रांत की सर्राफा एसोसिएशन एक महत्वपूर्ण और प्रतिष्ठित निकाय है जो न केवल एक आर्थिक इकाई के रूप में कार्य करती है, बल्कि ज़रुरत के समय दान और सामाजिक कार्य भी करती है। उन्होंने कहा कि वे कोशिश करेंगे कि जम्मू के हर जिले से और भी विश्वसनीय सदस्यों को इसमें शामिल किया जाए, ताकि एसोसिएशन को नई ऊंचाइयों पर ले जाया जा सके। हिन्दुस्थान समाचार/अमरीक/बलवान