पंचायत राठाना के गांवों को भी आरक्षण सूची में शामिल करने की मांग
पंचायत राठाना के गांवों को भी आरक्षण सूची में शामिल करने की मांग
जम्मू-कश्मीर

पंचायत राठाना के गांवों को भी आरक्षण सूची में शामिल करने की मांग

news

आर.एस. पुरा, 23 जुलाई (हि.स.)। अंतर्राष्ट्रीय भारत-पाक सीमा पर रहने वाले लोगों को विशेष आरक्षण देने के लिए सरकार की तरफ से हाल ही में निकाली गई सूची में ब्लॉक आर.एस. पुरा की पंचायत राठाना के गांवों को शामिल न किए जाने पर पंचायत की सरपंच शक्ति वाला तथा पंच जसपाल व अन्य पंचों और स्थानीय लोगों ने गुरूवार को सरकार के प्रति अपनी नाराजगी प्रकट करते हुए मांग की है कि उनकी पंचायत के गांवों को भी इस सूची में शामिल किया जाना चाहिए। पंचायत में आयोजित एक पत्रकार वार्ता के दौरान सरपंच शक्ति वाला तथा पंचायत के अन्य प्रतिनिधियों ने कहा कि सीमावर्ती क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को विशेष आरक्षण देने के लिए सरकार द्वारा जो सूची जारी की गई है उसका बार स्वागत करते हैं लेकिन उन्हें इस बात का मलाल है कि उनकी पंचायत को इस सूची से बाहर रखा गया है। सरपंच ने कहा कि जब भी पाकिस्तान की तरफ से गोलाबारी होती है तो पंचायत के लोगों को भी नुकसान झेलना पड़ता है खासकर विद्यार्थियों की शिक्षा पर काफी असर पड़ता है। उन्होंने कहा कि हवाई रास्ते से उनकी पंचायत की दूरी सीमा से मात्र 4 किलोमीटर ही है। ऐसे में सरकार को इस महत्वपूर्ण विषय पर दोबारा से विचार विमर्श करने की जरूरत है और इस पंचायत के गांवों को भी इस सूची में लाया जाना चाहिए। उन्होंने जम्मू कश्मीर के लेफ्टिनेंट गवर्नर से अपील करते हुए कहा कि वह इस पंचायत को भी इस सूची में शामिल करने के निर्देश जारी करें। हिन्दुस्थान समाचार/अमरीक/बलवान-hindusthansamachar.in