महामारी के बीच कर्मचारियों को निकालने के बजाय जानों को बचाए भारतीय सरकार - महबूबा

महामारी के बीच कर्मचारियों को निकालने के बजाय जानों को बचाए भारतीय सरकार - महबूबा
indian-government-should-save-lives-rather-than-evacuate-employees-amid-epidemic---mehbooba

महामारी के बीच कर्मचारियों को निकालने के बजाय जानों को बचाए भारतीय सरकार - महबूबा जम्मू, 03 मई ( हि स ) । जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री एवं प्युप्ल डेमोक्रेटिक पार्टी की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने सोमवार को कहा है कि महामारी के बीच भारतीय सरकार को सरकारी कर्मचारियों को निकालने के बजाय कीमती जानों को बचाने का प्रयास करना चाहिए। मुफ्ती ने कहा कि भारतीय सरकार को कश्मीर में अविश्वसनीय आधार पर सरकारी कर्मचारियों को निकालने के बजाए कीमती जानों को बचाना चाहिए। उन्होंने कहा कि इसमें कोई आश्चर्य नहीं है कि गलत प्राथमिकताओं ने भारत को श्मशान घाट और कब्रिस्तान में बदल दिया है। जीवित पीड़ित हैं और मृृतक गरिमा से वंचित हैं। बताते चलें कि हाल ही में प्रशासन द्वारा कुपवाड़ा के कराल पुरा में सरकारी मिडिल स्कूल के अध्यापक इदरीस जान को सेवाओं से हटा दिया गया था जिसके बाद पीडीपी प्रमुख की तरफ से यह प्रतिक्रिया आई है। हिन्दुस्थान समाचार / राहुल / बलवान