स्वास्थ्य बीमा योजना के लिए ऑनलाइन पंजीकरण शुरू करें: हिन्दुस्तान शिव सेना
स्वास्थ्य बीमा योजना के लिए ऑनलाइन पंजीकरण शुरू करें: हिन्दुस्तान शिव सेना
जम्मू-कश्मीर

स्वास्थ्य बीमा योजना के लिए ऑनलाइन पंजीकरण शुरू करें: हिन्दुस्तान शिव सेना

news

जम्मू, 31 जुलाई (हि.स.)। जम्मू-कश्मीर केन्द्र शासित प्रदेश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों पर चिंता जाहिर करते हुए हिन्दुस्तान शिव सेना के प्रदेश अध्यक्ष विक्रात कपूर ने शुक्रवार को उप राज्यपाल जी.सी. मुर्मू से आग्रह किया है कि वह जम्मू-कश्मीर में लोगों को राहत देने के लिए शुरू की गई स्वास्थ्य बीमा योजना को जमीनी स्तर पर लागू करने के लिए तत्काल से कदम उठाएं। उन्होंने लोगों को इस योजना के लिए पंजीकरण करवाने के लिए ऑनलाइन सुविधा प्रदान करने का आग्रह किया। इसके साथ ही उन्होंने लॉकडाउन के संबंधित नियमों का शापिंग मॉल, रेस्तराओं और अन्य स्थानों पर सख्ती से लागू करने पर भी बल दिया और नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने की मांग की। विक्रांत कपूर ने कहा कि उप राज्यपाल जी.सी. मुर्मू ने केन्द्र सरकार की आयुषमान भारत-प्रधान मंत्री जन अरोग्य योजना (पीएमजेएवाई) को लागू करने के लिए मंजूरी दे दी है जो कि एक सराहनीय कदम है। इससे जम्मू व कश्मीर के सभी लोगों को मुफ्त में ईलाज करवाने की सुविधा प्रदान होगी और राज्य के 1.25 करोड़ लोगों को इस योजना के तहत मिलने वाले सभी लाभ मिलेगें। कपूर ने कहा कि कोरोना महामारी के चलते जब आए दिन सैकड़ों की संख्या में नए मामले सामने आ रहे हैं तो ऐसे में इस योजना को शीघ्र लागू किया जाना चाहिए ताकि लोग इस योजना के तहत अपना ईलाज करवा सकें। उन्होंने कहा कि प्रदेश के अधिकांश लोग गरीब हैं और वे अपना ईलाज करवाने के लिए भारी भरकम पैसा खर्च करने की स्थिति में नहीं हैं। इसलिए उप राज्यपाल को चाहिए कि वह इस योजना को शीघ्र जमीनी स्तर पर लागू करें। उन्होंने इसके लिए ऑनलाईन पंजीकरण प्रक्रिया शुरू पर बल दिया ताकि लोग ऑनलाईन पंजीकरण करवाकर इस जन कल्याणकारी योजना का लाभ उठा सकें। उन्होंने कहा कि ऐसा करना इसलिए भी जरूरी है क्योंकि इस समय हालात ऐसे बने हुए हैं कि सरकारी कार्यालयों में जाना किसी भी प्रकार से किसी जोखिम से कम नहीं है और इससे कोरोना वायरस की महामारी फैलने की संभावना बढ़ जाती है। हिन्दुस्थान शिव सेना के अध्यक्ष विक्रांत कपूर ने आज यहां एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए यह विचार प्रकट किए। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन में ढील देने के बाद से जम्मू व कश्मीर में कोरोना वायरस के मामलों में भारी वृद्धि होना सरकार और आम लोगों के लिए गंभीर चिंता का विषय है। उन्होंने उप राज्यपाल प्रशासन से आग्रह किया कि एक ओर तो लॉकडाउन के नियमों का सख्ती से पालन किया जाना चाहिए तो दूसरी ओर शापिंग मॉल और रेस्तराओं सहित अन्य स्थानों पर सरकार के दिशा निर्देशों का पालन करने के लिए सख्ती बरती जानी चाहिए ताकि आम लोगों के बहुमूल्य जीवन को बचाया जा सके। उन्होंने कहा कि कई शापिंग मॉल में प्रशासन की ओर से जारी किए गए दिशा निर्देशों का पालन नहीं किया जा रहा है और वे शारीरिक दूरी सहित अन्य दिशा निर्देशों का खुलेआम उल्लंघन कर रहे हैं जिससे घातक कोरोना वायरस के फैलने की प्रबल संभावना है। उन्होंने कहा कि इस मामले में जम्मू के तोप पुल के निकट स्थित वेस्ट प्राईस शापिंग मॉल स्पष्ट उदाहरण है यहां पर शारीरिक दूरी का कोई ध्यान नहीं रखा जा रहा है और अन्य नियमों की भी भारी पैमाने पर धज्जियां उड़ाई जा रहीं हैं। इसी तरह से अन्य कई मालों में नियमों की धज्जियां उड़ाई जा रहीं हैं। संवाददाता सम्मेलन के दौरान सुनील दबगोत्रा, हिंदुस्तान शिवसेना के प्रदेश उपाध्यक्ष, नितिन मेहरा, अमित, हिमांशु गुप्ता, बाबा राम कैथ, महिला विंग की नेता नीरू वर्मा, सपना कोहली, ज्योति देवी और अन्य भी उपस्थित थे। हिन्दुस्थान समाचार/अमरीक/बलवान-hindusthansamachar.in