कोरोना के चलते कठुआ में फीका रहा ईद का जश्न, लोगों ने घरों में पढ़ी नमाज

कोरोना के चलते कठुआ में फीका रहा ईद का जश्न, लोगों ने घरों में पढ़ी नमाज
eid-celebrations-fade-in-kathua-due-to-corona-people-prayed-in-homes

कठुआ 13 मई (हि.स.)। देशभर के राज्यों में गुरूवार को ईद मनाई गई, इस साल भी कोरोना की दूसरी लहा के चलते ईद के दौरान कहीं भी रौनक नजर नहीं आई। कठुआ में ईद-उल-फितर का पर्व गुरूवार को पूरी सादगी से मनाया गया। लॉकडाउन के कारण मस्जिदों में सामूहिक नमाज नहीं पढ़ी गई और लोग घरों पर ही रहे। महामारी के चलते एकदूसरे से दूरी बनाये रखने के नियम का पूर्णतया पालन करने की धर्मगुरुओं की अपील पर लोगों ने घरों में ही नमाज पढ़ी। सुबह ईदगाह में सन्नाटा था, लोगों ने घरों पर परिवार के साथ ईद मनायी। मुस्लिम धर्मगुरु ने कहा कि हमने सबसे कहा था कि ईद की नमाज घर पर ही पढें, ईद का त्यौहार घर पर मनायें, मस्जिदों में रहने वाले केवल चार पांच लोगों ने ही वहां नमाज पढी। उन्होंने कहा कि कोविड-19 बीमारी की वजह से हमने मुस्लिम समाज के लोगों से अपील की थी कि वे सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पालन करें, सामाजिक दूरी का पालन करते हुए, अपने घरों में ही नमाज अदा करें। हिन्दुस्थान/समाचार/सचिन/बलवान

अन्य खबरें

No stories found.