दाता तालाब मेल रद्द घोषित होने के बावजूद श्रद्धालुओं ने टेका माथा

दाता तालाब मेल रद्द घोषित होने के बावजूद श्रद्धालुओं ने टेका माथा
devotees-bow-their-heads-despite-the-declaration-of-data-talab-mail-canceled

बड़ी ब्राह्मणा, 20 जून (हि.स.)। जम्मू के प्रसिद्ध देव स्थान दाता तालाब में रविवार को अनेक श्रद्धालुओं ने दाता देव में आस्था जताते हुए मंदिर में माथा टेका। दाता देव समिति ने लंगर बंद रखा था व तालाब (सरोवर) भी श्रद्धालुओं के लिए पूर्ण रूप से बंद रखा था। वह तैनात पुलिसकर्मियों व समिति के सदस्यों ने श्रदालुओं को कोरोना संबंधी दिशानिर्देश के अनुसार ही अंदर जाने दिया गया। मंदिर के निकट मात्र कुछ फूल बिक्रेताओं के अतिरिक्त किसी दुकान या अन्य व्यवसायिक किस्म के मनोरंजन साधन झूले आदि को अनुमति नहीं दी गयी। श्रदालु आते रहे व दूरी बरकरार रखते हुए दर्शन कर जाते रहे। समिति ने प्रसाद वितरण करने सहित सभी सेवादारों को निर्देश दे रखे थे कि प्रशासनिक निर्देशों का पूर्ण रूप से पालन करें। वहां नियुक्त सभी लोगों का कोरोना टेस्ट करवाने के बाद ही दायित्व सौंपा गया था, जबकि श्रदालुओं के प्रवेश करने के मार्ग पर दाता तालाब के पावन जल व सैनेटाईजर को पंखों द्वारा लोगों पर डालने का प्रबंध था। पुलिस अधिकारियों ने भी इस अवसर पर स्थिति का आकलन किया तथा पाया कि बिना किसी भीड़ के ही श्रद्धालुओं का दूरी बनाकर आना जाना जारी है। इस बार स्वागत कक्ष भी नहीं बनाया गया था व राजनेता भी नदारद ही रहे। कुल मिलाकर कहा जाए कि कोरोना पर आस्था भारी रही पर ये बात सराहनीय रही कि ना भीड़ जुटी ना कुछ पर जनता दर्शनों हेतु आती व जाती रही। उल्लेखनीय है कि दाता तालाब रणपत देव जी का देवस्थल है जिन्होंने हमेशा सच व न्याय का पक्ष लिया व एक जमीन विवाद में सच के पक्ष में निर्णय देने पर उनकी हत्या हो गयी थी। बाद में उनकी हत्या के दोष के कारण उनको दाता मान कर स्थापना कि गयी थी। रणपत देव संग उनकी माता आलमा भी सती हो गयी थी व फिर लम्बे अंतराल के बाद उनकी पत्नि शुक्रा भी सती हो गयी थी व दाता देव ने रूहानी शक्ति वन हत्यारे वांगी व उनके समर्थकों को दंड देना आरम्भ किया। इस स्थल के प्रति हर जाति के लोग श्रद्दा रखते हैं जबकि चाढ़क राजपूत व उनके पुरोहित सढ़ोतरा ब्राह्मण इनमें विशेष आस्था रखते हैं व दाता जी को कुलदेव मानते हैं। हिन्दुस्थान समाचार/अमरीक/बलवान

अन्य खबरें

No stories found.