पेट्रोल, डीजल व आवश्यक वस्तुओं के दाम में बढ़ोतरी के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन, रजनी पाटिल, मीर सहित कई कार्यकर्ता गिरफ्तार

पेट्रोल, डीजल व आवश्यक वस्तुओं के दाम में बढ़ोतरी के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन, रजनी पाटिल, मीर सहित कई कार्यकर्ता गिरफ्तार
congress-protest-against-increase-in-prices-of-petrol-diesel-and-essential-commodities-rajni-patil-mir-and-many-activists-arrested

जम्मू, 22 मार्च (हि.स.)। पेट्रोल, डीजल, आवश्यक वस्तुओं के दाम में बढ़ोतरी, बढ़ती बेरोजगारी और जममू कश्मीर के राज्य के दर्जे की बहाली सहित अन्य मुद्दों को लेकर प्रदेश कांग्रेस कमेटी जम्मू कश्मीर ने अपना आंदोलन जारी रखते हुए आज सोमवार को जम्मू के प्रेस क्लब के नजदीक प्रदर्शनी मैदान में धरना दिया और प्रदर्शन किया। वहीं एआईसीसी महासचिव व जम्मू-कश्मीर मामलों की प्रभारी श्रीमती रजनी पाटिल, पीसीसी चीफ जीए मीर को कई पूर्व मंत्रियों और विधायकों और पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं के साथ सैकड़ों कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। श्रीमती रजनी पाटिल और जी.ए. मीर, कई पूर्व मंत्रियों व विधायकों, पार्षदों, पीसीसी के पदाकारियों, डीसीसी अर्बन एंड रूरल, महिला कांग्रेस, युवा कांग्रेस, सेवादल, एनएसयूआई, अल्पसंख्यक विंग, ओबीसी विंग, एससी-एसटी, पूर्व सैनिक विंग जैसे सहयोगी संगठनों के नेताओं के साथ इन मुद्दों को लेकर बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन किया। उन्होंने विधानसभा के चुनाव शीघ्र करवाने की मांग भी उठाई। प्रदर्शनी मैदान से उन्होंने धरना देने के दौरान मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। उन्होंने कहा कि पेट्रोल, डीजल के दाम तो बढ़ ही रहे हैं, साथ ही आवश्यक वस्तुओं के दाम भी लगातार बढ़ रहे है। कोई पूछने वाला नहीं है। आम आदमी पिस रहा है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार अपने राजनीतिक एजेंडा को आगे बढ़ाने में लगी हुई है। उसे आम लोगों की समस्याओं के समाधान से कुछ लेना देना नहीं है। वहीं उन्होंने एक जलूस की शक्ल में राजभवन की ओर मार्च किया लेकिन भारी संख्या में तेनात पुलिसकर्मियों ने उनको गिरफ्तार कर लिया और उनको गांधीनगर पुलिस स्टेशन में ले गए। श्रीमती रजनी पाटिल, पीसीसी अध्यक्ष जी.ए. मीर के साथ ही जिनको गिरफ्तार किया गया उनमें पूर्व मंत्री मूला राम, रमन भल्ला, कांता भान, मुख्य प्रवक्ता रविंदर शर्मा, योगेश साहनी, रजनीश शर्मा, मनमोहन सिंह, हरि सिंह चिब, इंदु पवार, ठा. शिव देव सिंह, अशोक डोगरा, कृष्ण भगत (पूर्व विधायक), शाह नवाज, पवन रैना, संजीव पांडा, शशि शर्मा, उदय भानु चिब, राजेश सदोत्रा, गुरदर्शन सिंह, श्रीमती जाहिदा खान, प्रवीण सरवर खान, सुरेश डोगरा, राजवीर सिंह, डॉ. राशिद चौधरी, स्वर्ण सिंह, गज्जन सिंह, रविंदर सिंह, मोहन चौधरी, साहिल शर्मा, डॉ. करण भगत, पार्षद डॉ. द्वारका चौधरी, भानु महाजन, रितु चौधरी और कई अन्य नेता वरिष्ठ नेता शामिल थे। रजनी पाटिल जम्मू कश्मीर के पांच दिवसीय दौरे पर है। वह पहले कश्मीर गई थी। दो दिन तक जम्मू रहकर वह पार्टी नेताओं से बैठकें करेगी। पूर्व मुख्यमंत्री गुलाम नबी आजाद के पिछले महीने दौरे के बाद उनके दौरे को काफी अहम माना जा रहा है। पाटिल कश्मीर में चार जिलों के पदाधिकारियों से मिल चुकी है। वह जम्मू में दो दिन तक बैठकें करेगी। उनकी कोशिश है कि पार्टी को एकजुट रखा जा सके। हिन्दुस्थान समाचार/अमरीक/बलवान