आर.ई.के शिक्षकों का प्रतिनिधिमंडल प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष से मिलकर अपनी समस्याओं का सौंपा ज्ञापन
आर.ई.के शिक्षकों का प्रतिनिधिमंडल प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष से मिलकर अपनी समस्याओं का सौंपा ज्ञापन
जम्मू-कश्मीर

आर.ई.के शिक्षकों का प्रतिनिधिमंडल प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष से मिलकर अपनी समस्याओं का सौंपा ज्ञापन

news

उधमपुर, 17 जुलाई (हि.स.)। जम्मू-कश्मीर सरकार ने रहबर-ए-खेल योजना में कैबिनेट डिसिजन नंबर 196/12/2017, दिनांक 23/10/2017 व गवर्नमैंट आर्डर नंबर-141 ईडीयू (वाईएसएस) के तहत 3000 शारीरिक शिक्षा शिक्षकों की नियुक्ति की थी। इनमें से कुछ रहबर-ए-खेल शिक्षक प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष पवन खजूरिया से मिले और उन्हें अपनी समस्याओं से अवगत कराते हुए एक ज्ञापन सौंपा। इस अवसर पर उन्होंने बताया कि कर्मचारियों के दुःखों और कष्टों पर विचार किया जाना चाहिए लेकिन विभिन्न बैठकों के बाद भी वह सरकार की तरफ से राहत पाने का इंतजार कर रहे हैं । उन्होंने बताया कि सभी शिक्षक उच्च शिक्षा प्राप्त किए हुए हैं लेकिन नौकरी के नाम पर उनसे मजाक किया जा रहा है। तीन-चार हजार जैसी कम तनख्वाह में घर में गुजारा करना मुश्किल हो रहा है । उन्होंने कहा कि आर.ई.के. शिक्षकों को भारत के अन्य क्षेत्रों के कर्मचारियों के समान वेतन दिया जाना चाहिए। इस अवसर पर जिला आर.ई.के फोरम के प्रधान विनोद शर्मा तथा महासचिव विपिन फोतरा ने प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष से आग्रह किया कि वह उनकी बात प्रदेश में उपराज्यपाल गिरीश चन्द्र मुर्मू, प्रदेश भाजपा के शीर्ष नेतृत्व तथा केंद्र तक पहुंचाएं ताकि मंहगाई के इस दौर में वह भी अपने परिवार की सभी आवश्यकताओं को पूरा कर सकें। वहीं पवन खजूरिया ने कहा कि इतने कम मानदेय में अपनी आवश्यकताओं को पूर्ण करना अत्यंत कठिन है। आज के दौरे में उनकी मांगे जायज हैं। तीन या चार हजार का मानदेय देना शिक्षकों के साथ मजाक है। उन्होंने सभी आर.ई.के शिक्षकों को आश्वासन देते हुए कहा कि वह उनकी बात को पूरी ईमानदारी के साथ प्रदेश प्रशासन के साथ-साथ केंद्र तक भी पहुंचाएंगे ताकि उनकी समस्याओं का शीघ्र समाधान हो सके। हिन्दुस्थान समाचार/रमेश/बलवान-hindusthansamachar.in