भीम का पार्टी से नाता तोड़ गए सभी नेताओं से पैंथर्स में पुनः शामिल होने का आह्नान
भीम का पार्टी से नाता तोड़ गए सभी नेताओं से पैंथर्स में पुनः शामिल होने का आह्नान
जम्मू-कश्मीर

भीम का पार्टी से नाता तोड़ गए सभी नेताओं से पैंथर्स में पुनः शामिल होने का आह्नान

news

जम्मू, 24 जुलाई (हि.स.)। जम्मू-कश्मीर नेशनल पैंथर्स पार्टी सचिवालय ने महान आंदोलन के पुनरुद्धार के लिए एक सत्र आयोजित किया गया जिसमें वर्ष 1982 में पार्टी के गठन के मिशन सभी के लिए न्याय, समानता एवं मानवता के कल्याण के लिए संघर्ष के बारे में गहन चर्चा की गई। इस दौरान पैंथर्स पार्टी के संस्थापक प्रो. भीम सिंह ने प्रस्ताव पारित करके उन सभी लोगों से पार्टी में फिर से वापस आने का शुक्रवार को आह्नान किया जो लगभग 38 साल पहले पैंथर्स आंदोलन में शामिल हुए थे। भीम ने सभी से आग्रह किया कि वे पूर्व की घटनाएं भूलकर पैंथर्स पार्टी में वापस आ जायें ताकि इस आंदोलन को मजबूती प्रदान की जा सके। उन्होंने प्रस्ताव में पार्टी के पूरे नेतृत्व एवं सचिवालय के पदाधिकारियों की ओर से किसी भी कारण से पार्टी से अलग हुए उन सभी लोगों से पुरजोर अपील की कि वे जम्मू-कश्मीर नेशनल पैंथर्स पार्टी के साथ सक्रिय रूप से जुड़ने के लिए एक बार फिर से कार्य करें। उन्होंने खुद उन सभी से क्षमायाचना भी की। प्रस्ताव पार्टी के नेतृत्व द्वारा सर्वसम्मति से पारित किया गया, जिसमें युवा पैंथर्स, ट्रेड यूनियन नेताओं और अन्य लोगों के साथ पार्टी के कार्यकर्ताओं से बिना किसी क्षेत्र, धर्म, विश्वास के फिर से पार्टी में जुड़ने की अपील की गयी। प्रो. भीम सिंह ने कई नामों का उल्लेख किया, उनमें से कुछ का उल्लेख इस वक्तव्य में आंदोलन में वापस आने की अपील की गयी है। उन्होंने संस्थापक सदस्य उदय चंद, पूर्व विधायक फकीर नाथ एवं मोहम्मद रफीक शाह एवं तत्कालीन युवा एवं छात्र नेताओं सरदार दलजीत सिंह, शिव कुमार शेखश्पिर व अन्य का उल्लेख किया। उन्होंने उन लोगों का भी उल्लेख किया, जो पार्टी से नाराज हैं, जिनमें यंग पैंथर्स के नेता प्रताप सिंह जमवाल, शंकर सिंह चिब, जगदेव खजूरिया व कश्मीर प्रांत के कुछ समर्पित सहयोगी व जम्मू-कश्मीर के अन्य क्षेत्र शामिल हैं। हिन्दुस्थान समाचार/अमरीक/बलवान-hindusthansamachar.in