उत्तरी कमान के सभी सैन्य अस्पतालों में कोविड से निपटने के लिए बंदोबस्त किए गए

उत्तरी कमान के सभी सैन्य अस्पतालों में कोविड से निपटने के लिए बंदोबस्त किए गए
all-military-hospitals-in-northern-command-were-arranged-to-deal-with-kovid

जम्मू 03 मई (हि.स.)। जम्मू कश्मीर व लद्दाख में कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए सेना की उत्तरी कमान ने अपनी मेडिकल टीमों को पूर्व सैनिकों, उनके परिजनों को हर संभव सहायता देने के निर्देश दिए हैं। उत्तरी कमान के जनरल आफिसर कमांडिंग इन चीफ लेफ्टिनेंट जनरल वाइके जोशी ने सोमवार को सेना को पूर्व सैनिकों की मदद करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस समय उत्तरी कमान के सभी सैन्य अस्पतालों में कोविड से निपटने के लिए बंदोबस्त किए गए हैं। उन्होंने कहा कि इस समय कोविड वार्ड बनाने के साथ सेना के मेडिकल कोर के कई सेवानिवृत कर्मियों की मदद ली जा रही है। उन्होंने कहा कि साथ ही सेनानिवृत हो रहे मेडिकल कर्मियों की सेवाएं भी इस वर्ष दिसंबर माह तक बरकरार रखने का फैसला किया गया है। उन्होंने कहा कि अपने पूर्व सैनिकों को कोरोना संक्रमण से बचाने की तैयारी शुरू कर दी गई है। सेना की मेडिकल कोर के साथ सैन्य यूनिटों की मेडिकल टीमों को निर्देश दिए गए हैं कि वे सैनिकों व उनके परिवारों के साथ पूर्व सैनिकों के परिवारों स्वास्थ्य की सेवाएं देने के लिए कार्रवाई करें। सेना की उत्तरी कमान के पीआरओ डिफेंस लेफ्टिनेंट कर्नल अभिनव नवनीत ने कहा कि सेना ने अपने हेल्पलाइन नंबर पूर्व सैनिकों व उनके परिवारों को दिए हैं। पूर्व सैनिकों व उनके परिजनों टेलीफोन के माध्यम से बनाए गए नोडल अधिकारियों से सीधे बातचीत कर सकते हैं। ऐसे में पूर्व सैनिकों द्वारा मांगी जा रही मदद के आधार पर सीधे कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने बताया कि इस समय सैन्य कर्मियों को स्वस्थ होने तक उन्हें हर प्रकार की सहायता दी जा रही है। हिन्दुस्थान समाचार/बलवान