‘चैत्रीय नवरात्रों के उपलक्ष्य पर वैष्णो देवी भवन सजकर श्रद्धालुओं के स्वागत को पूरी तरह तैयार‘

‘चैत्रीय नवरात्रों के उपलक्ष्य पर वैष्णो देवी भवन सजकर श्रद्धालुओं के स्वागत को पूरी तरह तैयार‘
39on-the-occasion-of-chaitra-navratras-vaishno-devi-bhawan-is-ready-and-ready-to-welcome-the-devotees39

उधमपुर/कटडा, 12 अप्रैल(हि.स.)। मंगलवार से शुरू हो रहे चैत्रीय नवरात्रों के उपलक्ष्य पर वैष्णो देवी भवन रंग-बिरंगे फूलों से सजकर पूरी तरह तैयार है। इस बार भवन को सजाने हेतु लीली, गुलाब, गेंदा सहित कई विदेशी फूलों का इस्तेमाल किया गया जोकि काफी आकृषण का केंद्र बने हुए हैं। इससे वैष्णो देवी भवन की शोभा देखते ही बन रही है। ऐसा लग रहा है कि वैष्णो देवी भवन सजकर श्रद्धालुओं के स्वागत को पुरी तरह से तैयार है। वहीं वैष्णो देवी भवन पर 9 दिवसीय चलने वाले वैष्णो देवी भवन पर से मिली जानकारी के अनूसार सजावट की तैयारियां अंतिम चरण हैं। वहीं बोर्ड प्रशासन द्वारा वैष्णो देवी यात्रा मार्ग पर बने भोजनालयों में नवरात्रों में व्रत को लेकर फलहार आदि की भी व्यवस्था की गई है। ताकि नवरात्रों में व्रत रखकर दर्शनों को आने वाले श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पडे। कटडा की बात करें तो कटडा के प्रवेश द्वार जैसे एशिया चैक, पैंथल रोड व मुख्य बस स्टैंड पर भी श्रद्धालुओं के स्वागत के लिए डियोढियों का निर्माण् किया जा रहा है। वहीं बाण गंगा स्थित दक्षिणी डियोढ़ी पर भी बोर्ड प्रशासन द्वारा सजावट की जा रही है। ताकि नवरात्रों के दौरान दर्शनों के इच्छुक श्रद्धालुओं भक्तिमय हो सके। मंगलवार से शुरू हो रहे नवरात्रों के दौरान दर्शनों को आने वाले हर श्रद्धालुओं को कोरोना महामारी के चलते केंद्र सरकार द्वारा जारी एसओपी को पूरी तरह से पालन करना होगा। श्राइन बोर्ड प्रशासन द्वारा वैष्णो देवी यात्रा शुरू करने से पहले हर श्रद्धालु के लिए कोरोना नैगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य कर दिया है। वाण गंगा पर बने प्रवेश द्वार पर श्राइनबोर्ड प्रशासन की टीमों द्वारा हर श्रद्धालु की कोरोना जांच संबंधित रिपोर्ट को देखने के बाद ही आगे बढ़ने की अनुमति दी जा रही है। वही जम्मू कश्मीर से आए श्रद्धालुओं के लिए बाण गंगा पर ही कोरोना जांच केंद्र भी स्थापित किया गया है। जिन श्रद्धालुओं के पास कोरोना जांच संबंधित रिपोर्ट नहीं होती, उनकी मोके पर ही जांच कर रिपोर्ट आने के बाद ही दर्शर्नो को जाने की अनुमति दी जा रही है। हिन्दुस्थान समाचार/रमेश/बलवान