‘पार्षद प्रीति खजूरिया ने डीसी इंदू कंवल चिब से मुलाकात कर वार्ड की समस्याओं का सौंपा ज्ञापन‘

‘पार्षद प्रीति खजूरिया ने डीसी इंदू कंवल चिब से मुलाकात कर वार्ड की समस्याओं का सौंपा ज्ञापन‘
39councilor-preeti-khajuria-met-dc-indu-kanwal-chib-and-submitted-a-memorandum-on-the-problems-of-the-ward39

उधमपुर, 8 जून (हि.स.)। वार्ड नंबर-1 की पार्षद प्रीति खजूरिया ने जिला विकास आयुक्त उधमपुर इंदु कंवल चिब से मिलकर अपने वार्ड की समस्याओं से उन्हें अवगत करवाया। इस संबंध में उन्होंने एक ज्ञापन भी जिलायुक्त को सौंपा। इस अवसर पर उन्होंने उन्हें बताया कि वार्ड नंबर-1 शहर के 21 वार्डों में जनसंख्या और क्षेत्र के हिसाब से सबसे बड़ा वार्ड है, क्योंकि कुछ पंचायती क्षेत्र भी वॉर्ड नंबर-1 के साथ जुड़ गए हैं। जिससे वॉर्ड की समस्याएं भी बहुत अधिक हो गई हैं। उन्होंने जो पंचायती क्षेत्र वार्ड नंबर-1 से जुड़े हैं, उन पंचायती क्षेत्रों में कभी कोई विकास कार्य हुए ही नहीं है परंतु वह अपने वार्ड की समस्याओं को एक चुनौती की तरह लेती हैं और जहां तक हो सके उन चुनौतियों को पूरा करने के लिए कोशिश भी करती रहती हैं। वहीं जिला विकास आयुक्त ने पार्षद प्रीति खजूरिया की हर एक समस्याओं को बहुत ध्यान से सुना और कुछ समस्याओं का उसी समय संबंधित विभाग के उच्च अधिकारियों को फोन करके जल्द से जल्द समस्याओं को हल करने की हिदायत दी ताकि लोगों की परेशानियां कम हो सकें। भारत नगर में पानी के बिल जमा करवाने के बावजूद पिछले 2 वर्षों से लोगों को पीने की पानी की सुविधा नहीं मिल रही है। इसका प्रमुख कारण मोहल्ले में पानी की लगभग 12 मुख्य पाइपें के ब्लॉक होना है जबकि विभाग इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा जिसकी वजह से आम जनता परेशान हो रही है। भरतनगर-जखैनी क्षेत्र के जोड़ने वाली सर्विस रोड जो पिछले 3 वर्षों से बुरी तरह से ध्वस्त हो गई है। इसका सबसे प्रमुख कारण है कि इस क्षेत्र में जो नेशनल हाईवे ने प्रोटैक्शन दीवार बनानी थी वह आज तक नहीं बनाई, जिसकी वजह से उस क्षेत्र की सहायक मार्ग तो पूरी तरह से ध्वस्त हो गया है परंतु अब उस क्षेत्र में आते मकानों को भी खतरा बन गया है, क्योंकि बहुत अधिक बारिश हो जाने पर कहीं ना कहीं भूस्खलन के कारण उस क्षेत्र में आने वाले मकान क्षतिग्रस्त हो सकते हैं। भरतनगर में यू.ई.ई.डी विभाग द्वारा किए जा रहे सीवरेज के काम में काफी धीमी गति होने की वजह से वहां की मुख्य सड़क की ब्लैक टॉपिंग का काम रुका हुआ है, जिसकी वजह से भरतनगर के निवासियों को बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। वार्ड नंबर-1 में केबलिंग के कुछ काम आधे अधूरे ही विभाग ने छोड़ दिए हैं, जिसकी वजह से आए दिन थोड़ी सी हवा चलने पर बिजली बंद हो जाती है। इससे इस भीषण गर्मी में लोगों की परेशानियां बढ़ जाती हैं। विभाग को चाहिए कि वह जल्द से जल्द उन अधूरे पड़े कामों को पूरा कराया जाए ताकि ताकि उस क्षेत्र के लोगों को रोज-रोज बिजली की कटौती का या फिर तारों के टूट जाने के कारण आने वाली परेशानियों से जूझना ना पड़े। जखैनी क्षेत्र में पड़ते प्राइमरी हैल्थ वैलनेस सेंटर की तरफ भी ध्यान दिया जाए। ताकि क्षेत्र के लोगों असुविधाओं का सामना न करना पड़े। वार्ड नंबर-1 के नेशनल हाईवे में जितने भी बड़े वृक्ष आते हैं उनके आसपास के क्षेत्र का मरम्मत कार्य किया जाए ताकि बड़े वृक्ष जो हमारी धरोहर भी हैं और हमें ऑक्सीजन भी देते हैं, उन वृक्ष के नीचे लोगों के बैठने की भी एक जगह बन जाएगी। जखैनी चैक में 2 साल पहले फुटब्रिज की मांग भी की गई थी, क्योंकि नैशनल हाईवे के दोनों तरफ लोगों की बस्ती है और उस क्षेत्र में जब ट्रैफिक जाम की समस्या बन जाती है तो एक तरफ से दूसरी तरफ जाने के लिए लोगों को बहुत समस्याओं का सामना करना पड़ता है। अगर 1 फुट ओवर ब्रिज बन जाता है तो इससे स्थानीय लोगों की आने-जाने की परेशानी हल होगी। हिन्दुस्थान समाचार/रमेश/बलवान