सोपोर हत्या पर पीडीपी ने कहा मनगढ़ंत बातों से जम्मू कश्मीर के युवाओं के खून को सही ठहराया जा रहा
सोपोर हत्या पर पीडीपी ने कहा मनगढ़ंत बातों से जम्मू कश्मीर के युवाओं के खून को सही ठहराया जा रहा
जम्मू-कश्मीर

सोपोर हत्या पर पीडीपी ने कहा मनगढ़ंत बातों से जम्मू कश्मीर के युवाओं के खून को सही ठहराया जा रहा

news

जम्मू, 16 सितम्बर (हि स) । जम्मू कश्मीर प्युपल डेमोक्रेटिक पार्टी ने बुधवार को कहा है कि मनगढ़ंत बातों को गढ़ कर जम्मू कश्मीर के निर्दोष युवाओं के खून को सही ठहराने का प्रयास किया जा रहा है। पार्टी की तरफ से बुधवार को जारी एक बयान में कहा गया कि शोपियां में फर्जी एनकाउंटर अभी भी ताजा था और हमारे पास सोपोर हत्या सामने आ गई। ऐसा लगता है कि जम्मू कश्मीर के निर्दोष युवाओं के खून के छींटे को सही ठहराने के लिए मनगढ़ंत बातों को कोई अंत नहीं है। जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की बेटी इल्तिज़ा मुफ्ती ने इसे नृशंस हत्या बताया। उन्होंने कहा कि 23 वर्षीय इरफान अहमद डार कि नृशंस हत्या की गई है। वह पेशे से एक दुकानदार थे जिनपर गलत तरीके से ओवरग्राउंड वर्कर का आरोप लगाया गया। मुफ्ती ने कहा कि इससे यह सच्चाई फिर उजागर होती है कि जम्मू कश्मीर में निर्दोष नागरिकों की हत्या को सही ठहराने के लिए कहानियां गढ़ ही जाती है बताते चलें कि उत्तरी कश्मीर के बारामुला जिले के सोपोर में 23 वर्षीय युवक की मौत के बाद क्षेत्र में लोगों का आक्रोश है। स्थानीय लोगों ने जम्मू-कश्मीर पुलिस के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए यह आरोप लगाया है कि युवा को गत 15 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था जबकि बुधवार सुबह उसका शव पत्थर की खदान के पास मिला। पुलिस ने इन आरोपों को नकारते हुए कहा है कि यह युवक आतंकियों का ओवरग्रौंड वर्कर था। उसे गिरफ्तार किया गया परंतु अंधेरे का लाभ उठाते हुए उसने पुलिस की गिरफ्त से भागने का प्रयास किया और इसी दौरान उसकी मौत हो गई। हालांकि परिवार वाले पुलिस की बात से इत्तेफाक नहीं रखते। मृतक इरफान के परिवार जन इसे हिरासती मौत बता रहे हैं। हिन्दुस्थान समाचार / राहुल / बलवान-hindusthansamachar.in