सलाहकार खान ने जम्मू और कश्मीर में सर्दियों हेतु स्टॉकिंग, आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की स्थिति का लिया जायज़ा
सलाहकार खान ने जम्मू और कश्मीर में सर्दियों हेतु स्टॉकिंग, आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की स्थिति का लिया जायज़ा
जम्मू-कश्मीर

सलाहकार खान ने जम्मू और कश्मीर में सर्दियों हेतु स्टॉकिंग, आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की स्थिति का लिया जायज़ा

news

श्रीनगर, 16 सितम्बर (हि.स.)। उपराज्यपाल के सलाहकार फारूक खान ने कश्मीर और जम्मू कश्मीर के सीमावर्ती और दूर-दराज के क्षेत्रों में आवश्यक वस्तुओं की शीतकालीन स्टॉकिंग और आपूर्ति की स्थिति की समीक्षा के लिए बैठक का आयोजन किया। बैठक में सचिव खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामले, सिमरनदीप सिंह और निदेशक एफसीएस एंड सीए कश्मीर, बशीर अहमद ने भाग लिया। निदेशक एफसीएस एंड सीए जम्मू, जतिंदर सिंह, एमडी आरटीसी, अंगरेज सिंह और अन्य सम्बंधित अधिकारियों ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक में भाग लिया। बैठक में सचिव एफसीएस और सीए ने आवश्यक वस्तुओं की स्टॉक आपूर्ति और कश्मीर और जम्मू संभागों के शीतकालीन क्षेत्रों के लिए आवश्यक वस्तुओं को उठाने और भेजने के लिए की गई व्यवस्था के बारे में सलाहकार को जानकारी दी। इस अवसर पर सलाहकार ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया कि खाद्यान्न, ईंधन और अन्य संबंधित चीजों का पर्याप्त स्टॉक सुनिश्चित करने के लिए एफसीएस और सीए स्टोरों में जहां कहीं भी आवश्यकता हो, वहां डंप किया जाए। उन्होंने एफसीएस और सीए के अधिकारियों को आवश्यक आपूर्ति की उचित स्थिति सुनिश्चित करने के लिए कहा ताकि लोगों को अधिक सर्दियों में किसी भी असुविधा का सामना न करना पड़े। कश्मीर डिवीजन के निदेशक एफसीएस और सीए कश्मीर ने खाद्यान्न के स्टॉक की समीक्षा के दौरान सलाहकार को जानकारी देते हुए कहा कि आवश्यक वस्तुओं के उठान की प्रक्रिया पहले से ही शुरू की जा चुकी है और अगले दो सप्ताह में पूरी हो जाएगी। बांदीपोरा जिले के गुरेज क्षेत्र के संबंध में, बैठक में बताया गया कि 88699 लीटर केरोसिन उपलब्ध करवाया गया है तथा 22690.36 क्विंटल चावल, 3815 क्विंटल आटा तथा गेहूं उपलब्ध करवाया गया है। बैठक में कुपवाड़ा जिले के करनाह, माछिल और केरन क्षेत्रों में केरोसीन की आपूर्ति की स्थिति की समीक्षा के दौरान बताया गया कि एलपीजी सिलेंडर के संबंध में, कराह, माछिल केरन में 6000 सिलेंडरों का स्टॉक उपलब्ध करवाया गया तथा 8000 सिलेंडर भेजे गये है। इसी तरह कुपवाड़ा सीमावर्ती क्षेत्रों के लिए, 55848 क्विंटल चावल, 10047 क्विंटल आट्टा और गेहूं तथा 8000 लीटर मिटटी का तेल भेजे जाने की जानकारी दी गई। जम्मू संभाग से सम्बोधित 50 से 60 प्रतिशत स्टॉक की आपूर्ति अलग-अलग सर्दियों के स्टेशनों में भेजे जाने की जानकारी भी दी गई। बैठक में जम्मू-कश्मीर के विभिन्न क्षेत्रों में खाद्यान्न की आपूर्ति के लिए निगम की बसों और ट्रकों को काम पर रखने के संबंध में आरटीसी निविदा प्रक्रिया पर भी चर्चा हुई। सलाहकार ने क्षेत्र में परेशानी मुक्त आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए तत्काल आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश जारी किए। हिन्दुस्थान समाचार/सुमन/बलवान-hindusthansamachar.in