शारदीय नवरात्रें प्रारंभ, बाजारों में लौटी रौनक
शारदीय नवरात्रें प्रारंभ, बाजारों में लौटी रौनक
जम्मू-कश्मीर

शारदीय नवरात्रें प्रारंभ, बाजारों में लौटी रौनक

news

उधमपुर, 17 अक्तूबर (हि.स.)। शनिवार को शारदीय नवरात्रे प्रारंभ हो गए। वहीं आज सुबह सवेरे ही काफी संख्या में शहर वासी देविका तट पहुंचे तथा वहां पर स्नान कर मंदिरों में पूजा अर्चना की। वहीं नवरात्रे के पहले दिन 7ः30 बजे के उपरांत साख की बीजने का शुभ मुहूर्त था तथा उसके उपरांत शहर वासियांे साख लगाई तथा शैलपुत्री माता की पूजा अर्चना की गई। इस दौरान एक कन्या का पूजन किया गया। नवरात्रों शुरू होते ही बाजारों मंे भी भारी भीड़ देखने को मिली। काफी लम्बे अंतराल के उपरांत शादियों व अन्य शुभ कार्यों के मुहूर्त प्रारंभ हो गए हैं। इसलिए बाजारों से भी लोगों ने खरीददारी की। दुकानदार भी काफी प्रसन्न थे। कोरोना महामारी व पुरूशोत्तम मास के चलते जो मंदी का दौर चल रहा था उसे कुछ राहत मिलने की उम्मीद है। वहीं हर वर्ष शारदीय नवरात्रों पर होने वाली रामलीलाएं इस बार कोरोना महामारी को देखते हुए स्थगित रखी गई हैं। जहां तक कि इस बार दशहरा कार्यक्रम भी रद्द कर दिया गया है। वहीं मराडा माता, चैंतरा माता मंदिरों, पिंगला माता में अखंड ज्योति प्रज्ज्वलित की गई तथा लंगर लगाए गए जिसमें भारी संख्या में श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया। गौर रहे कि कोरोना महामारी के कारण सभी धार्मिक कार्य व मंदिर बंद थे। लेकिन 15 अक्तूबर से अनलाॅक-5 लागू हो गया तथा इसमें मंदिरों को कुछ शर्तों के साथ खोल दिया गया है। श्रद्धालुओं को भी गाइडलाइन के साथ मंदिरों में जाने की इजाजत होगी। इस दौरान कोई भी मूर्तियों को छू नहीं सकेगा। नवरात्रों पर होने वाले जगराते अभी भी नहीं हो सकेंगे, क्योंकि ज्यादा लोगों के एकत्रित होने पर मनाही है। हिन्दुस्थान समाचार/रमेश/बलवान --------------hindusthansamachar.in