मोदी सरकार लद्दाख के हितों की रक्षा और विकास के लिए प्रतिबद्ध है-अनुराग ठाकुर
मोदी सरकार लद्दाख के हितों की रक्षा और विकास के लिए प्रतिबद्ध है-अनुराग ठाकुर
जम्मू-कश्मीर

मोदी सरकार लद्दाख के हितों की रक्षा और विकास के लिए प्रतिबद्ध है-अनुराग ठाकुर

news

लद्दाख, 08 अक्टूबर (हि.स.)। केंद्रीय वित्त और कॉरपोरेट मामलों के राज्य मंत्री, अनुराग ठाकुर ने लेह स्वायत्त पहाड़ी विकास परिषद के चुनाव अभियान में गुरूवार को आठ जनसभाओं को संबोधित किया और कहा कि मोदी सरकार लद्दाख के हितों की रक्षा कर रही है और इसके विकास के लिए प्रतिबद्ध है। अनुराग ठाकुर ने कहा कि लद्दाख भारत का मुकुट है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लद्दाख के हितों की रक्षा करने और अपने हितों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध हैं। मोदी के 6 साल के शासनकाल उपलब्धियों से भरा है और उपलब्धियों के बीच, लद्दाख को केंद्रशासित प्रदेश बनाना अपने आप में विशेष है। लद्दाख के एक अलग केंद्र शासित प्रदेश के गठन के साथ, लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने का अभियान अब तेज हो गया है। मोदी सरकार लद्दाख के लोगों को छठी अनुसूची के साथ अधिक सुविधाएं प्रदान करने और भूमि, लद्दाखियों की विशिष्ट पहचान तथा संस्कृति को संरक्षित करने के लिए प्रतिबद्ध है। आत्मनिर्भर भारत के विकास की यात्रा लद्दाख के बिना अधूरी है। यदि सीमा पर थोड़ा भी तनाव है, तो प्रधानमंत्री मोदी दिल्ली में अपने घर में नहीं बैठते हैं, बल्कि सीमा पर आकर खड़े हो जाते हैं। सेना के साथ, लद्दाख के लोगों के साथ, यह मोदी जी के लद्दाख और लद्दाख के प्रति प्रेम को दर्शाता है। उन्होंने आगे कहा कि कांग्रेस संसद में महिलाओं के अधिकारों के बारे में बात करती है, उन्हें 33 प्रतिशत आरक्षण देती है, लेकिन लेह हिल काउंसिल चुनाव में एक भी महिला उम्मीदवार को टिकट नहीं देना उनकी महिला विरोधी मानसिकता को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि मोदी जी ने लद्दाख की हर मांग को पूरा करने के लिए काम किया है और अब लद्दाख की बारी है कि वह आगामी हिल काउंसिल चुनावों में भाजपा के उम्मीदवारों की जीत सुनिश्चित करके मोदी जी के हाथों को मजबूत करंे। मोदी सरकार शिक्षा, स्वास्थ्य, आधारभूत संरचना, सड़क, रेल को बढ़ावा दे रही है। हवाई संपर्क और पर्यटन के विश्व स्तरीय प्रचार पर भी काम जारी है। अनुराग ठाकुर ने कहा कि चीन जानता है और समझ गया है कि लद्दाख का विकास प्रधानमंत्री मोदी का सपना है और अब यह विकास चीन को परेशान कर रहा है। चीन की परेशानी का कारण लद्दाख में सीमा क्षेत्र की सड़कें और पुल ही नहीं बल्कि लद्दाख का संपूर्ण विकास भी है। यहां सड़कें बनाई जा रही हैं, पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए कई योजनाएं लागू की जा रही हैं, लेह हवाई अड्डे को आधुनिक बनाया जा रहा है, यहां नए टर्मिनल भवन बनाए जा रहे हैं जो आधुनिकता के साथ-साथ लद्दाख की कला और संस्कृति पर आधारित होंगे। वहीं इसके अलावा अनुराग ठाकुर लेह में तिब्बती परंपरा के थिकी पुस्तकालय और सांस्कृतिक केंद्र पहुंचे और वहां की प्राचीन तिब्बती कला, साहित्य और संस्कृति का दौरा किया। हिन्दुस्थान समाचार/कुलदीप/बलवान-hindusthansamachar.in