बाहर से आने वाले सैलानियों को लखनपुर में कोविद जांच के नाम पर प्रताड़ित नहीं किया जाये: क्रांति दल
बाहर से आने वाले सैलानियों को लखनपुर में कोविद जांच के नाम पर प्रताड़ित नहीं किया जाये: क्रांति दल
जम्मू-कश्मीर

बाहर से आने वाले सैलानियों को लखनपुर में कोविद जांच के नाम पर प्रताड़ित नहीं किया जाये: क्रांति दल

news

जम्मू, 16 अक्टूबर (हि.स.)। क्रांति दल ने केंद्र सरकार तथा जम्मू व कश्मीर यूटी के उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा से शुक्रवार को आग्रह किया कि जम्मू-कश्मीर में आने वाले सैलानियों को लखनपुर में कोविड-19 के नाम पर लंबे समय के लिए ना रोका जाए तथा चेकिंग के नाम पर प्रताड़ित ना किया जाए। क्रांति दल के अध्यक्ष प्रीतम शर्मा ने यहां एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से यह बात कही। उन्होंने प्रेस को संबोधित करते हुए कहा कि हिमाचल प्रदेश एवं पंजाब सहित अन्य राज्यों में सैलानियों के आने जाने के लिए विशेष प्रबंध किए गए हैं परंतु जम्मू कश्मीर में सैलानियों पर बहुत सारी पाबंदियां हैं जिनमें अधिकतर कोविड-19 तथा सुरक्षा के नाम पर जांच मुख्य हैं जिसमें सैलानी लखनपुर में काफी प्रताड़ित होते हैं। प्रीतम शर्मा ने कहा कि जम्मू तक आने वाली रेलगाड़ियों को इजाजत नहीं दी गई क्योंकि पंजाब की रेल पटरियों पर किसान कब्जा जमाए बैठे हैं जिस कारण नवरात्रों में जम्मू कश्मीर आने वाले धार्मिक श्रद्धालु नहीं पहुंच पा रहे जो जम्मू कश्मीर की अर्थव्यवस्था के लिए घातक है। उन्होंने कहा कि इन पटरियों को खाली करवाया जाये तथा यातायात को सुचारू बनाया जाए क्योंकि जम्मू कश्मीर में पिछले वर्ष 5 अगस्त से अर्थव्यवस्था चौपट है पहले 370 हटाते समय बहुत सारी पाबंदियां जम्मू कश्मीर में लगाई गई, आतंकवाद और जुलूसों के कारण भी काफी पाबंदियां राज्य में लगाई गई जिस कारण राज्य का व्यापार चौपट हो गया। उन्होंने कहा कि अब जबकि नवरात्रि शुरू हुए हैं तो ऐसे में राज्य के व्यापारी वर्ग तथा आम जनमानस को सैलानियों का इंतजार है तो सैलानियों को आ रही मुश्किलों को प्रशासन तुरंत हल करने में सहयोग करे तथा सुरक्षा के नाम पर लगी पाबंदियों को केंद्र सरकार हटाने में सहयोग करे ताकि राज्य की अर्थव्यवस्था पटरी पर आ सके एवं व्यापारी वर्ग के साथ-साथ राज्य के आम जनमानस को भी आर्थिक लाभ हो सके। हिन्दुस्थान समाचार/अमरीक/बलवान-hindusthansamachar.in