बलदेव सिंह बलोरिया ने जल निकासी व्यवस्था की गिरती स्थिति के बारे में पत्रकारों से की बात
बलदेव सिंह बलोरिया ने जल निकासी व्यवस्था की गिरती स्थिति के बारे में पत्रकारों से की बात
जम्मू-कश्मीर

बलदेव सिंह बलोरिया ने जल निकासी व्यवस्था की गिरती स्थिति के बारे में पत्रकारों से की बात

news

जम्मू 16 अक्टूबर (हि.स.)। जम्मू नगर निगम में जल निकासी व्यवस्था की गिरती स्थिति के बारे में चेयरमैन जम्मू नगर निगम बलदेव सिंह बलोरिया ने शुक्रवार को पत्रकारों से बात की। इस दौरान बलोरिया ने नालों के अतिक्रमण का मुद्दा उठाया। पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि अतिक्रमण के कारण नालों की कुल लंबाई काफी हद तक कम हो गई है। उन्होंने कहा कि बड़े नालों को अब अतिक्रमण के कारण छोटे नालों और छोटे नालों को नालियों में बदल दिया गया है। जम्मू नगर निगम हर साल फरवरी के महीने से 104 बड़े नालों और 171 गहरे नालों के काम को शुरू कर देती है लेकिन नालों की लंबाई के अतिक्रमण और कमी के कारण कुछ स्थानों पर बारिश के मौसम के दौरान पानी ओवरफ्लो हो जाता है जिससे तबाही मचती है। बलोरिया ने उप राज्यपाल से आग्रह किया कि स्मार्ट ड्रेनेज सिस्टम के बारे में एक नीति आगामी 20 वर्षों को ध्यान में रखते हुए तैयार की जाए ताकि जम्मू शहर के नागरिकों को बेहतर जल निकासी की सुविधा प्रदान की जा सके। उन्होंने कहा कि जल निकासी सड़क चौड़ीकरण के पैटर्न के अनुसार किया जाए क्योंकि यह निकट भविष्य को ध्यान में रखते हुए एक आवश्यकता भी है। बलोरिया ने यह भी कहा कि जिन लोगों ने नालों का अतिक्रमण किया है उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। अतिक्रमित नाले की भूमि को पुनरू प्राप्त करने में कोई भेदभाव नहीं होगा और उन लोगों को भी मुआवजा प्रदान किया जाएगाए जिनकी स्वामित्व वाली भूमि चौड़ीकरण परियोजना में आती है। इस मौके पर चेयरमैन जीत कुमार अंग्राल ने भी बलदेव सिंह बलोरिया द्वारा उठाए गए मुद्दों की प्रशंसा की और मुद्दों पर अपना समर्थन दिया। हिन्दुस्थान समाचार/मोनिका/बलवान-hindusthansamachar.in