बजरंग दल ने नेकां कार्यालय का घेराब कर फारूक अब्दुल्ला का पुतला फूंका
बजरंग दल ने नेकां कार्यालय का घेराब कर फारूक अब्दुल्ला का पुतला फूंका
जम्मू-कश्मीर

बजरंग दल ने नेकां कार्यालय का घेराब कर फारूक अब्दुल्ला का पुतला फूंका

news

जम्मू, 14 अक्टूबर (हि.स.)। राष्ट्रीय बजरंग दल ने बुधवार को नेकां के कार्यालय का घेराव किया और पार्टी के संरक्षक डॉ. फारूक अब्दुल्ला का पुतला फूंककर जोरदार प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रदर्शन की अध्यक्षता राष्ट्रीय बजरंग दल के प्रदेश अध्यक्ष राकेश बजरंगी ने की। उन्होंने कहा की फारुख अब्दुल्ला ने जो बयान दिया है वह देशद्रोही है। उन्होंने कहा की जम्मू कश्मीर में 370, 35 ए को लागू करने के लिए वह चीन की सहायता लेंगे। चीन वही देश है जिसने कुछ महीने पहले हमारे 20 सैनिकों को शहीद गया था और वह हमारी सीमाओं के अंदर बैठा हुआ है। फारूक अब्दुल्ला का यह बयान देशद्रोही बयान है। फारूक अब्दुल्ला ने हमारे उन 20 सैनिकों की शहादत का अपमान किया है। फारूक अब्दुल्ला भारत के संविधानिक पद पर बैठे हुए हैं। वह कश्मीर के श्रीनगर से सांसद हैं व पूर्व सीएम रह चुके हैं। केंद्र में कैबिनेट मिनिस्टर रह चुके है। भारत सरकार ने उनको एनएसजी की सुरक्षा दी हुई है। उनके घर पर अनेक पैरा मिलिट्री के जवान सुरक्षा में तैनात हैं। वह खाते हिंदुस्तान का है। उन्होंने कहा कि सुरक्षा हिंदुस्तान की लेते हैं और गुण पाकिस्तान और चाइना के गाते हैं। भारत की जनता इसको कभी सहन नहीं करेगी। बजरंगी ने कहा कि हम उप राज्यपाल मनोज सिन्हा से निवेदन करते हैं कि फारूक अब्दुल्ला के ऊपर विभिन्न धाराओं के तहत देशद्रोह का मुकदमा दर्ज होना चाहिए। राकेश शर्मा ने कहा कि देवेंद्र राणा नेकां के जम्मू प्रांत के सबसे बड़े नेता है। वह भी अपना स्टैंड क्लियर करें कि वह फारूक अब्दुल्ला के बयान से सहमत हैं या उसका खंडन करते हैं। अगर वह इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं देते तो राष्ट्रीय बजरंग दल आने वाले दिनों में उनके घर का भी घेराव करेगा। उन्होंने कहा कि अगर फारूक अब्दुल्ला जल्द से जल्द देश की जनता से और शहीद सैनिकों के परिवारों से माफी नहीं मांगते तो हम चुप नहीं बैठेंगे। हम इसका विरोध लगातार जारी रखेंगे क्योंकि जम्मू राष्ट्रवादी लोगों से भरा पड़ा है। हम अपने सैनिकों का अपमान सहन नहीं करेंगे। इसके लिए अगर अपने प्राणों का बलिदान भी देना पड़ेगा तो हम देंगे। इस मौके पर अनेक कार्यकर्ता उपस्थित थे जिनमें आस्तिक, ऋषभ, अनिरुद्ध, कौशल, सचिन, सौरभ शर्मा, दीपक शर्मा, सुमित, राकेश पंडित, अश्वनी, अक्षय तल्ला, पालू, लवेश, सोनू, अमित, राजन गुप्ता, सन्नी आदि अनेक कार्यकर्ता उपस्थिति थे। हिन्दुस्थान समाचार/अमरीक/बलवान-hindusthansamachar.in