पेयजल समस्या को लेकर वार्ड़ एक के स्थानीय लोगों का शिष्टमंडल पीएचई विभाग के कार्यकारी अभियंता से मिला
पेयजल समस्या को लेकर वार्ड़ एक के स्थानीय लोगों का शिष्टमंडल पीएचई विभाग के कार्यकारी अभियंता से मिला
जम्मू-कश्मीर

पेयजल समस्या को लेकर वार्ड़ एक के स्थानीय लोगों का शिष्टमंडल पीएचई विभाग के कार्यकारी अभियंता से मिला

news

कठुआ, 11 सितंबर (हि.स.)। कठुआ शहर के वार्ड नंबर 1 में स्थित पलगेतर मोहल्ला के स्थानीय लोगों का एक शिष्टमंडल पानी की समस्या को लेकर पीएचई विभाग के कार्यकारी अभियंता से मिलने पहुंचे। वार्ड़ एक के स्थानीय लोगों का कहना है कि पिछले 1 साल से उनके मोहल्ले में पेयजल की आपूर्ति सही ढंग से नहीं की जा रही। शिष्टमंडल में उपस्थित वार्ड़ एक के स्थानीय निवासी बनारसी दास का कहना है कि वैसे तो वार्ड नंबर 1 कठुआ का वीवीआइपी वार्ड़ कहलाता है, जिसमें डीसी, एसपी सहित कई गणमान्य लोगों के निवास स्थान है, लेकिन उसी वार्ड में एक छोटा सा मोहल्ला है जिसके साथ सौतेला व्यवहार किया जाता है। उन्होंने कहा कि पिछले 1 साल से उनके मोहल्ले में पेयजल कभी भी सही समय पर नहीं छोड़ा जाता। उन्होंने कहा कि कभी पानी की सप्लाई रात को 8 बजे छोड़ते हैं, तो कभी सुबह 9 बजे के बाद पानी सप्लाई दी जाती है। उन्होंने कहा कि इस वार्ड़ में ज्यादातर लोग गरीब तबके के हैं और इस मोहल्ले में सभी लोग सुबह अपने काम रोजगार के लिए बाहर जाते हैं और पीछे से अगर पानी आ भी जाए तो वह पानी किसी काम का नहीं है। इसी संबंध में आज पीएचई विभाग के कार्यकारी अभियंता से मिले हैं और उनके समक्ष लिखित में मांग रखी है, कि उनके मोहल्ले में पेयजल की सप्लाई का समय निर्धारित किया जाए। जिसमें सुबह और शाम पानी दिया जाए। उन्होंने कहा कि पेयजल सप्लाई छोड़ने का समय सही होना चाहिए ताकि लोग समय पर अपना पानी भरें और उसके बाद काम रोजगार पर भी जा सके। शिष्टमंडल में आए युवक का कहना है कि पिछले 1 साल से पानी की समस्या से जूझ रहे हैं, कभी पानी की सप्लाई एक दिन दी जाती आता है तो कभी 2 से 3 दिन तक पेयजल की सप्लाई ही नहीं आती। उन्होंने कहा कि इस संबंध में कई बार पेयजल सप्लाई खोलने वाले से मिल चुके हैं, लेकिन उसने हमारी एक नहीं सुनी। जिसके चलते आज मजबूरन पीएचई विभाग के आला अधिकारी से मिलने पहुंचे हैं और उनके समक्ष लिखित में मांग रखी है, ताकि समय-समय पर पानी दिया जाए और लोगों को इस समस्या से निजात मिल सके। हिन्दुस्थान समाचार/सचिन/बलवान-hindusthansamachar.in