पंजाबी भाषियों के साथ इंसाफ करे सरकार: तिलक राज भगत
पंजाबी भाषियों के साथ इंसाफ करे सरकार: तिलक राज भगत
जम्मू-कश्मीर

पंजाबी भाषियों के साथ इंसाफ करे सरकार: तिलक राज भगत

news

आर.एस. पुरा, 10 सितंबर (हि.स.)। बहुजन समाज पार्टी के जिला को ऑर्डिनेटर तिलक राज भगत ने गुरूवार को सरकार से मांग की है कि जम्मू कश्मीर में पंजाबी भाषा को भी अधिकारिक तौर पर लागू किया जाना चाहिए। आर.एस. पुरा में आयोजित एक पत्रकार वार्ता के दौरान बसपा के जिला कोआर्डिनेटर तिलक राज भगत ने कहा कि सरकार ने जम्मू कश्मीर में डोगरी सहित जो अन्य पांच भाषाओं को अधिकारिक रूप से दर्जा दिया है पार्टी उसका स्वागत करती है लेकिन जिस तरह से पंजाबी भाषा को नजरअंदाज किया गया है उसकी पार्टी कड़े शब्दों में निंदा करती है और सरकार से मांग करती है कि जल्द से जल्द पंजाबी भाषा को भी इसमें शामिल किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार ने यह फैसला लेकर पंजाबी बोलने वाले लोगों के साथ वेइंसाफी की है जिसे सहन नहीं किया जाएगा और अगर सरकार ने जल्द से जल्द इस बिल में संशोधन लाते हुए पंजाबी भाषा को लागू नहीं किया तो बसपा सड़कों पर उतरने के लिए मजबूर हो जाएगी। उन्होंने कहा कि पंजाबी भाषा एक अकेली ऐसी भाषा है जो पूरे विश्व में बोली जाती है और जम्मू कश्मीर में भी इसे बोलने वाले लोगों की संख्या लाखों में है। उन्होंने सरकार से मांग करते हुए कहा कि जल्द से जल्द पंजाबी भाषा को जम्मू कश्मीर में लागू किया जाना चाहिए। इस अवसर पर बसपा के कई कार्यकर्ता भी उनके साथ थे। हिन्दुस्थान समाचार/अमरीक/बलवान-hindusthansamachar.in