नवरात्रों पर मंदिर की सफाई ना करवाने पर मुंसिपल कमेटी लखनपुर पर भड़के महंत शांतिगिरी जी महाराज
नवरात्रों पर मंदिर की सफाई ना करवाने पर मुंसिपल कमेटी लखनपुर पर भड़के महंत शांतिगिरी जी महाराज
जम्मू-कश्मीर

नवरात्रों पर मंदिर की सफाई ना करवाने पर मुंसिपल कमेटी लखनपुर पर भड़के महंत शांतिगिरी जी महाराज

news

कठुआ, 16 अक्तूबर (हि.स.)। केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर के प्रवेश द्वार लखनपुर में स्थित प्राचीन किले वाला मंदिर के संत शांति गिरी जी महाराज ने लखनपुर मुंसिपल कमेटी के खिलाफ रोष व्यक्त किया। मंदिर के संत शांति गिरी जी महाराज ने कहा कि 17 अक्टूबर शनिवार से शुभ नवरात्रे शुरू हो रहे हैं जिसके चलते मुंसिपल कमेटी लखनपुर को कई बार मंदिर के आसपास साफ-सफाई के लिए कहा गया, लेकिन मुंसिपल कमेटी के अध्यक्ष ने इसे गंभीरता से नहीं लिया और मंदिर और उसके आसपास कोई साफ-सफाई नहीं करवाई। उन्होंने कहा की साफ-सफाई को लेकर संबंधित पार्षद को भी गुहार लगा चुके हैं लेकिन किसी ने भी मंदिर के आसपास साफ-सफाई करवाने की पहल नहीं की। वहीं महंत शांतिगिरी जी महाराज और उनके सेवकों ने स्वयं ही मंदिर के भीतर और बाहर साफ सफाई का अभियान चलाया। इसी पर कड़ा रोष व्यक्त करते हुए उन्होंने मुंसिपल कमेटी के अध्यक्ष को कहा कि चारों धर्मों को एक समान लेकर चलिए। उन्होंने कहा कि क्या उन्हें नहीं पता था कि कल से नवरात्रे शुरू होने वाले हैं और अध्यक्ष होने के नाते उनका फर्ज बनता है कि लखनपुर के मंदिरों और मुख्य स्थानों पर सफाई अभियान चलाया जाए। उन्होंने जिला प्रशासन को भी आड़े हाथों लेते हुए कहा कि जिला प्रशासन का भी इस और कोई ध्यान नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रशासनिक अधिकारी भी बंद कमरों में बैठकर समीक्षा करते हैं, लेकिन जमीनी स्तर पर उनके आदेश का कोई पालन नहीं करता। वहीं उन्होंने जम्मू-कश्मीर के उप राज्यपाल मनोज सिन्हा से मांग की है कि जिला कठुआ में एक बार फिर से रोहित खजूरिया को उपायुक्त तौर पर लाया जाए तभी जाकर कठुआ के आम जनमानस की सुनवाई होगी। इस अवसर पर गोरव मेहता, पंकज शर्मा, नरेश शर्मा, प्रशांत शर्मा, अरूण दुबे, राम चंद्र, राहुल, अंकुश डोगरा, राघव, तारा पंडित, सुरेंद्र सिंह, विरेंद्र ंिसह सहिम कई अन्य सेवक मौजूद रहे। हिन्दुस्थान/समाचार/सचिन/बलवान-hindusthansamachar.in