कठुआ यूथ कांग्रेस ने नरेंद्र मोदी के जन्मदिन को राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस के रूप में मनाया
कठुआ यूथ कांग्रेस ने नरेंद्र मोदी के जन्मदिन को राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस के रूप में मनाया
जम्मू-कश्मीर

कठुआ यूथ कांग्रेस ने नरेंद्र मोदी के जन्मदिन को राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस के रूप में मनाया

news

कठुआ, 17 सितंबर (हि.स.)। जिला कठुआ की सभी विधानसभा क्षेत्र जिसमें हीरानगर, बिलावर कठुआ, बनी और बसोहली में प्रधानमंत्री के जन्मदिन को राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस के रूप में मनाया गया जिसमें युवाओं ने हाथों रोजगार दो की तख्तियां लेकर अपना विरोध प्रकट किया और सरकार से मांग की कि बेरोजगार युवाओं को रोजगार दिया जाए। भाजपा के शासन के तहत बढ़ती बेरोजगारी के मुद्दे को उजागर करने और उनके लिए रोजगार के अवसर पैदा करने के लिए सरकार को प्रभावित करने के लिए आज पूरे देश में राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस के रूप में मनाया जा रहा है। पत्रकारों से बात करते हुए जिला यूथ कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल ने कहा कि जब नरेंद्र मोदी प्रधान मंत्री बने, तो उन्होंने देश के युवाओं से वादा किया कि वह हर साल दो करोड़ युवाओं को नौकरी देंगे। उन्होंने एक सपना बेचा, लेकिन वास्तविकता यह है कि नरेंद्र मोदी की नीतियों के कारण 14 करोड़ लोग बेरोजगार हो गए हैं। राहुल नगला ने कहा कि मोदी सरकार की गलत नीतियों के कारण, जीएसटी और फिर लॉकडाउन के गलत क्रियान्वयन ने देश के आर्थिक ढांचे को नष्ट कर दिया है और अब सच्चाई यह है कि भारत अपने युवाओं को रोजगार नहीं दे पा रहा है। वहीं स्वयं सहायता समूह योजना को समाप्त करने के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार की आलोचना करते हुए राहुल ने कहा कि 16 हजार स्थानीय बेरोजगार इंजीनियरों को प्रभावित किया है। रोमी शर्मा जिला अध्यक्ष कठुआ ने कहा कि “सरकार परेशान परिस्थितियों के कारण एक वर्ष के लिए पूरे जम्मू और कश्मीर में इंटरनेट को बहाल करने में सक्षम नहीं है, जबकि दूसरी ओर भाजपा सरकार सामान्य स्थिति का दावा करती है और जम्मू-कश्मीर के युवाओं को नौकरियों के लिए प्रतिस्पर्धा करने के लिए मौजूदा रियायतों और सुविधाओं को वापस ले लिया है। जो दुर्भाग्यपूर्ण है। सरकार ने विशेष स्थिति का हनन करने के बाद बहुत से रोजगार के अवसरों का सृजन करने के अलावा 50,000 नौकरियों का वादा किया था, लेकिन युवाओं और छात्रों को धोखा दिया। शर्मा ने कहा कि केंद्र सरकार की हर कार्रवाई जम्मू-कश्मीर के शिक्षित युवाओं को भारी पड़ रही है और सरकारी या निजी क्षेत्रों में उनके लिए कोई रोजगार नहीं है। प्रदर्शनकारियों में अंकुश शर्मा, सुनील वर्मा, सुमित संब्याल, सम्मी कुमार, सनी कुमार, अमन मेहरा ,मोहन सिंह ,सुभम मेहरा ,भुबनेश्वर शर्मा ,मोहन सिंह ,गौरव सिंह, अंकुश शर्मा, राकेश आदि मौजूद रहे। हिन्दुस्थान/समाचार/सचिल/बलवान-hindusthansamachar.in