16वीं निर्वासित तिब्बती संसद के लिए दो सांसदों को दिलाई गई शपथ

16वीं निर्वासित तिब्बती संसद के लिए दो सांसदों को दिलाई गई शपथ
two-mps-sworn-in-for-16th-exiled-tibetan-parliament

धर्मशाला, 14 अप्रैल (हि.स.)। निर्वासित तिब्बती संसद के लिए बुधवार को दो सांसदों को शपथ दिलाई गई। उप सभापति आचार्य येशी फुंचोक ने नए संसद सदस्यों पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। 16वीं निर्वासित तिब्बती संसद के लिए डोमे प्रांत के गेशे गंगरी और यू-त्सांग प्रांत के नामग्याल क्यूसर को संसद के पूर्व अध्यक्ष पेमा जुंगनी और पूर्व सांसद लोबसांग चोइजर के इस्तीफे के बाद इन्हें शपथ दिलाई गई है। इन दोनों सांसदों को पिछले आम चुनाव के दौरान हासिल किए गए आवश्यक न्यूनतम वोटों के आधार पर और जिनके पास मौजूदा आरक्षित सूची में सबसे अधिक वोट थे, के आधार पर सांसद बनाया गया है। संसद के दोनों सदस्यों के लिए शपथ ग्रहण समारोह निर्वासित तिब्बती संसद और संसदीय स्टाफ के सदस्यों की स्थायी समिति के सदस्यों की उपस्थिति में बुधवार कोे संसद में आयोजित किया गया। इस अवसर पर उपाध्यक्ष ने कहा कि इन दोनों सांसदों ने 16वीं निर्वासित तिब्बती संसद के शेष कार्यकाल के लिए उनके साथ काम करने की इच्छा व्यक्त की थी। “भले ही इस संसद का कार्यकाल जल्द ही समाप्त हो रहा है, पर यह हमारे लिए सबसे अच्छा काम करने का एक मौका है। शपथ समारोह के बाद सांसद गेशे गंगरी और नामग्याल क्यूसर ने डिप्टी स्पीकर से मार्गदर्शन मांगा और उन्हें डिप्टी स्पीकर के चैंबर में आधिकारिक दस्तावेज सौंप दिए गए। गौरतलब है कि हाल ही में 11 अप्रैल को 17वीं निर्वासित तिब्बती संसद और सिक्योंग के लिए आखिरी चरण का मतदान हो चुका है। 14 मई को चुनवा के नतीजे आऐंगे। ऐसे में इन दोनों सांसदों को कार्यकाल करीब एक माह का ही रहेगा। हिन्दुस्थान समाचार/सतेंद्र/उज्जवल