सोमवार से कांगड़ा में भी थम जाएंगे निजी बसों के पहिए

सोमवार से कांगड़ा में भी थम जाएंगे निजी बसों के पहिए
the-wheels-of-private-buses-will-stop-in-kangra-from-monday

धर्मशाला, 02 मई (हि.स.) । प्रदेश में तीन मई से निजी बसों के पहिये थम जाएंगे। इसी कड़ी में जिला कांगड़ा में भी सोमवार को निजी बस ऑपरेटर्स वेलफेयर सोसायटी भी हिमाचल निजी बस ऑपरेटर संघ के आह्वान पर तीन मई से अपनी मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर देगी। जिला कांगड़ा निजी बस ऑपरेटर्स वेलफेयर सोसायटी के अध्यक्ष रवि दत्त शर्मा ने कहा 25 अप्रैल को बकायदा उपायुक्त कांगड़ा के माध्यम से प्रदेश सरकार को ज्ञापन भेज मांग उठाई गई थी कि एक सप्ताह में उनकी मांगों को पूरा किया जाए अन्यथा तीन मई से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर दी जाएगी। उन्होंने बताया कि प्रदेश के निजी बस ऑपरेटर पिछले आठ माह से अपनी मांगों को लेकर सरकार के पास लगातार गुहार लगाते आ रहे हैं तथा सरकार भी बार-बार आश्वासन दे रही है। लेकिन अभी तक इस पर कोई भी फैसला नहीं लिया गया है। निजी बस ऑपरेटर बढ़ती महंगाई एवं सवारियां कम होने के कारण बसे चलाने में असमर्थ है तथा आजकल भी 10 से 15 फीसद बसें प्रदेश में चल रही हैं। वहीं मुख्यमंत्री ने बीते 15 अप्रैल यानी हिमाचल दिवस के मौके पर तीन माह का 50 फीसदी टैक्स माफ करने की घोषणा की जबकि पिछले आठ माह का टैक्स अभी भी बकाया है। बस ऑपरेटरों की मांगों में मुख्यतः टैक्स माफी एवं कार्यशील पूंजी को लागू करना है, लेकिन सरकार बार-बार आश्वासन देने के बावजूद इस पर कोई फैसला नहीं ले रही है। हालांकि बीते 25 मार्च को प्रधान सचिव परिवहन की अध्यक्षता में एक बैठक आयोजित की गई थी। जिसमें फैसला लिया गया था कि अप्रैल माह की कैबिनेट बैठक में इस मुद्दे पर चर्चा की जाएगी तथा फैसला भी लिया जाएगा। लेकिन अभी तक इस मुद्दे पर कोई चर्चा नहीं की और न ही इस पर कोई फैसला हुआ है, इसलिए निजी बस ऑपरेटर अपनी बसें खड़ी करने को मजबूर हैं। हिन्दुस्थान समाचार/सतेंद्र/उज्जवल