starting-from-dig-state-intelligence-office-dharamshala-santosh-patial-takes-charge
starting-from-dig-state-intelligence-office-dharamshala-santosh-patial-takes-charge
हिमाचल-प्रदेश

डीआईजी स्टेट इंटेलीजेंस कार्यालय धर्मशाला से शुरू, संतोष पटियाल ने संभाला कार्यभार

news

धर्मशाला, 10 फरवरी (हि.स.)। राजधानी शिमला से धर्मशाला स्थानातंरित किए गए डीआईजी स्टेट इंटेलीजेंस एंड स्क्यिोरिटी कार्यालय में पहले डीआईजी के तौर पर बुधवार को आईपीएस संतोष पटियाल ने कार्यभार संभाल लिया। गौर हो कि जय राम सरकार द्वारा डीआईजी इंटेलीजेंस स्टेट कार्यालय को शिमला से धर्मशाला स्थानातंरित करने का निर्णय लिया गया था। इस कार्यालय के खुल जाने से खासकर कांगड़ा व चम्बा सहित उना जिला के साथ लगने वाले सीमांत क्षेत्रों में होने वाली हर तरह की संदिग्ध गतिविधियों पर नजर रखी जा सकेगी जो कि शिमला से संभव नही थी। इस कार्यालय के शुरू होने के साथ ही अब यहां करीब एक दर्जन अधिकारी व कर्मचारी शिफट किए जाऐंगे ताकि कार्यालय का कार्य सुचारू रूप से चल सके। प्रदेश सरकार द्वारा इस कार्यालय को शिमला से धर्मशाला स्थानांतरित करने के पीछे मुख्य मकसद निचले जिलों चम्बा व कांगड़ा सहित उना के साथ लगने वाले सीमांत क्षेत्रों में आपराधिक गतिविधियों सहित अन्य संदिग्ध गतिविधियों पर पैनी नजर रखी जा सकेगी। यह कार्यालय चम्बा जिला के साथ लगने वाले जम्मू-कश्मीर की समाओं पर भी नजर रखी जा सकेगी। किसी भी तरह की आंतरिक डिस्टरबेंस पर भी यह विभाग खुफिया नजर रखेगा। गौर हो कि पूर्व वीरभद्र सरकार ने धर्मशाला को दूसरी राजधानी घोषित किया था। हालांकि उसके बाद प्रदेश में भाजपा की जय राम सरकार सत्ता में आई और उन्होंने धर्मशाला को दूसरी राजधानी के दर्जे को औपचारिक तौर पर कोई मान्यता नही दी। बावजूद इसके डीआइजी इटेंलीजैंस जैसे कार्यालय को शिमला से कांगड़ा जिला के मुख्यालय धर्मशाला शिफट करना कुछ हद तक दूसरी राजधानी का एहसास करवाता है। हिन्दुस्थान समाचार/सतेंद्र/सुनील-hindusthansamachar.in