प्रदेश में स्थापित होंगे छह पीएसए ऑक्सीजन संयंत्र : मुख्यमंत्री

प्रदेश में स्थापित होंगे छह पीएसए ऑक्सीजन संयंत्र : मुख्यमंत्री
six-psa-oxygen-plants-to-be-set-up-in-the-state-chief-minister

कांगड़ा जिला के परौर स्थित राधास्वामी सत्संग व्यास परिसर में कोविड रोगियों के लिए लगेंगे एक हजार बिस्तर धर्मशाला, 04 मई (हि.स.)। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने मंगलवार को कांगड़ा जिले के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक करके जिला में इस महामारी के मामलों में तेज वृद्धि के मद्देनजर कोविड-19 रोगियों की सुविधा के लिए जिले में अतिरिक्त बिस्तर की क्षमता बढ़ाने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि परौर में अगले 10 दिनों के भीतर 250 बिस्तर की अतिरिक्त क्षमता प्रदान करने के लिए अस्थायी व्यवस्था की जाएगी, जिसे धीरे-धीरे बढ़ाकर लगभग 1000 बिस्तर कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि गंभीर रूप से बीमार रोगियों को बेहतर उपचार प्रदान करने के लिए ऑक्सीजन की उचित और सुचारू आपूर्ति सुनिश्चित की करने और आईसीयू बिस्तर की क्षमता बढ़ाने पर भी जोर दिया। जय राम ठाकुर ने कहा कि निजी प्रयोगशालाओं को व्यवस्थित और आवश्यक किया जाएगा ताकि अधिक आरटी-पीसीआर परीक्षण किए जा सकें और जल्द से जल्द रोगियों को रिपोर्ट प्रदान की जा सके। उन्होंने कहा कि इलाज के बाद मरीजों को घर वापस ले जाने के लिए ड्रॉप बैक वाहनों की पर्याप्त व्यवस्था करने के अलावा अस्पतालों में मरीजों के परिवहन के लिए एक फुलप्रूफ तंत्र विकसित किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि भारत सरकार ने हिमाचल के लिए छह पीएसए ऑक्सीजन संयंत्र स्वीकृत किए हैं, जो सिविल अस्पताल पालमपुर, जोनल अस्पताल मंडी, सिविल अस्पताल रोहड़ू और शिमला जिला के सिविल अस्पताल खनेरी सहित डॉ. वाईएस परमार राजकीय महाविद्यालय और अस्पताल नाहन तथा क्षेत्रीय अस्पताल सोलन में स्थापित किए जाऐंगे। उन्होंने कहा कि इससे इन स्वास्थ्य संस्थानों में लगभग 1400 बिस्तरों को पर्याप्त ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित होगी। जय राम ठाकुर ने कहा कि सरकार ने कोविड अस्पतालों में ड्यूटी पर विभिन्न श्रेणियों के डॉक्टरों और पैरा-मेडिकल कर्मचारियों को प्रोत्साहन प्रदान करने का भी निर्णय लिया है। इसके बाद मुख्यमंत्री ने कांगड़ा जिले के परौर में राधास्वामी सत्संग व्यास का भी दौरा किया और जल्द से जल्द मेकशिफट कोविड अस्पताल के निर्माण के लिए आवश्यक निर्देश दिए। उपायुक्त कांगड़ा राकेश प्रजापति ने कहा कि जिला में अब तक तीन लाख 59 हजार 489 कोरोना टेस्ट किए गए हैं गया है, जिनमें से 19 हजार 570 पाॅजिटिव पाए गए हैं। उन्होंने कहा कि जिले में 5384 सक्रिय मामले हैं। हिन्दुस्थान समाचार/सतेंद्र/सुनील