six-day-training-camp-for-newly-elected-panchayat-representatives-started
six-day-training-camp-for-newly-elected-panchayat-representatives-started
हिमाचल-प्रदेश

नवनिर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों के लिए छह दिवसीय प्रशिक्षण शिविर शुरू

news

धर्मशाला, 28 फरवरी (हि.स.)। उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि ग्रामीण विकास में पंचायत प्रतिनिधियों की अहम भूमिका है इसलिए सभी नवनिर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों को अपने कर्तव्यों का ईमानदारी से निर्वहन सुनिश्चित करना चाहिए। उपायुक्त राकेश प्रजापति सोमवार को जिला परिषद के सभागार में धर्मशाला ब्लाक के पंचायत प्रधानों, उपप्रधानों एवं वार्ड सदस्यों के लिए आयोजित छह दिवसीय प्रशिक्षण शिविर उद्घाटन सत्र में बतौर मुख्यातिथि बोल रहे थे। उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि पंचायत प्रतिनिधियों को पंचायतों के कामकाज बारे विस्तार से जानकारी होनी चाहिए इस के लिए नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों के लिए प्रशिक्षण शिविर आयोजित किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पंचायतों के विकास के लिए विभिन्न मदों के तहत वित्तीय सहायता मुहैया करवाई जाती है तथा पंचायत प्रतिनिधियों को बजट खर्च करने के लिए वित्तीय नियमों को लेकर पूरी तरह से सजग रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि पंचायत प्रतिनिधि आपसी समन्वय के साथ पंचायतों के विकास में बेहतर भूमिका निभा सकते हैं। ग्राम सभाओं की बैठकों के नियमित आयोजन तथा चरणबद्व प्लानिंग के माध्यम से अपनी अपनी पंचायतों को आदर्श पंचायतों के रूप विकसित करने का लक्ष्य निर्धारित करना चाहिए। इससे पहले जिला पंचायत अधिकारी राजेंद्र शर्मा ने मुख्यातिथि का स्वागत करते हुए छह दिवसीय प्रशिक्षण शिविर के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि सरकार के दिशा निर्देशों के तहत नवनिर्वाचित प्रतिनिधियों को पंचायतों की कार्यप्रणाली, वित्तिय नियमों, ग्राम सभा बैठकों के आयोजन इत्यादि के बारे में विस्तार से जानकारी दी जाएगी इसके अतिरिक्त समय समय पर रिफ्रेशर कोर्स भी आयोजित किए जाएंगे ताकि पंचायत प्रतिनिधियों को किसी तरह की असुविधा नहीं हो। हिन्दुस्थान समाचार/सतेंद्र/सुनील