Shimla: Police increase security, 600 soldiers deployed for new year
Shimla: Police increase security, 600 soldiers deployed for new year
हिमाचल-प्रदेश

शिमला : नए साल को लेकर पुलिस ने बढ़ाई सुरक्षा, 600 जवान तैनात

news

शिमला, 29 दिसम्बर (हि.स.)। राजधानी शिमला में नए साल में सैलानियों की आमद को देखते हुए पुलिस ने सुरक्षा प्रबन्ध मजबूत कर दिए हैं। नाईट कर्फ्यू के चलते रात 10 बजे के बाद सैलानी जश्न नहीं माना सकेंगे। पुलिस ने पूरे शहर को 7 सेक्टरों में बांटा है। यातायात व्यवस्था के लिए शहर में 8 सेक्टर बनाए गए हैं। एएसपी, डीएसपी स्तर के अधिकारियों से लेकर कुल इसमें 600 के करीब जवानों को तैनात कर दिया है। एसपी शिमला मोहित चावला ने मंगलवार को प्रेस वार्ता में बताया कि यातायात पुलिस पर्यटकों के लिए गाइड का काम भी करेगी। पुलिस ने क्रासिंग के पास हेल्प डेस्क बनाया है। पुलिस के जवान पर्यटकों को गाइड करेंगे कि वे होटल तक कैसे पहुंचे, अपनी गाड़ी को कहां खड़ी करें। शिमला शहर में पर्यटकों के लिए 5 हजार वाहन खड़े करने की क्षमता के पार्क होने की क्षमता है। 31 दिसंबर को भारी संख्या में पर्यटक शिमला घूमने के लिए आते हैं। अतिरिक्त वाहनों को पार्क करने की व्यवस्था की है। सड़कों के किनारे इन वाहनों को पार्क किया जाएगा। एसपी शिमला ने बताया कि होटल संचालकों से भी बात की जा रही है कि वह पर्यटकों को गाइड करें।7 सेक्टर में इन्हें बनाया इंचार्ज पुलिस ने सेक्टर-1 का इंचार्ज एएसपी सुशील शर्मा को बनाया है। इस सेक्टर में रिज, मॉलरोड़, लक्कड़ बाजार, लोअर बाजार और ऑकलैंड टनल तक का क्षेत्र होगा। सेक्टर-2 की जिम्मेवारी एएसपी प्रवीर ठाकुर को दी गई है। उनके पास विक्ट्री टनल, ताराहॉल, लक्कड़ बाजार, बस स्टैंड और संजौली का क्षेत्र होगा। सेक्टर तीन का इंचार्ज डीएसपी राजकुमार को बनाया गया है। इस सेक्टर में ढली से मशोबरा और कुफरी तक का एरिया आएगा। सेक्टर चार एरिया में टूटीकंडी, तारादेवी, शोघी और आईएसबीटी क्षेत्र आएगा। इस सेक्टर का इंचार्ज डीएसपी अजय को बनाया गया है। सेक्टर पांच में बैम्लोई, लिफ्ट, लोकल बस अड्डा होगा। डीएसपी मंगतराम इसके इंचार्ज होंगे। सेक्टर-6 का इंचार्ज डीएसपी कमल वर्मा को बनाया गया है। इनके पास लोकल बस अड्डे से विक्ट्री टनल और टूटीकंडी का एरिया शामिल है। सेक्टर-7 का इंचार्ज इंस्पेक्टर श्याम तोमर को बनाया गया है। उनके पास टूटीकंडी बाइफरकेशन एरिया होगा। पुलिस के जवान टूटीकंडी में ही गाड़ियों की पार्किंग के बारे में जानकारी देगी। पर्यटकों को बताया जाएगा कि वाहन कहां पर खड़े कर सकते हैं। जब शहर की सभी पार्किंग फुल हो जाएंगी तो सड़कों के किनारे बनाई गई अस्थायी पार्किंग में गाड़ियों को पार्क किया जाएगा। उन्होंने बताया कि शिमला में रात दस बजे के बाद कफ्र्यू लगा दिया जाएगा। रिज और मॉलरोड़ को दस बजे से पहले ही खाली करवा दिया जाएगा। सेक्टर इंचार्ज सहित पुलिस के अन्य अधिकारी रिज और मॉलरोड़ पर रात 12 बजे तक मौजूद रहेंगे। पुलिस को आशंका है कि पर्यटक रात को दोबारा जश्न मनाने रिज पर पहुंच सकते हैं। सुरक्षा की दृष्टि से शहर में जगह-जगह सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। वाहनों की तीन स्थानों पर चैकिंग की जाएगी। पहली बार ट्रेंड कमांडों का ग्रुप भी देखेगा सुरक्षा पुलिस ने क्विक एक्शन टीम (क्यूआरटी) और स्पेशल एक्शन ग्रुप (एसएजी)को तैनात किया जाएगा। एसएजी को पहली बार शिमला में सुरक्षा के लिए तैनात किया जा रहा है। इसमें सीआईडी के ट्रेंड कमांडों शामिल हैं। यह टीम बुलेट प्रूफ जैकेट और बंब निरोधक दस्ते के साथ तैनात रहेगी। अापदा से लेकर हर तरह की चुनौती से निपटने के लिए यह टीम तैयार रहती है। पुलिस ने 3 क्रेन, पीसीआर, इंटरसेप्टर वैन के अलावा थाने और चौकियाें की गाड़ियों को रूटीन मूवमेंट के निर्देश दिए हैं। हिन्दुस्थान समाचार/उज्ज्वल/सुनील-hindusthansamachar.in