shimla-29-complaints-disposed-of-on-the-spot-in-janmunch-program
shimla-29-complaints-disposed-of-on-the-spot-in-janmunch-program
हिमाचल-प्रदेश

शिमला : जनमंच कार्य्रकम में मौके पर निपटाई गईं 29 शिकायतें

news

शिमला, 14 फरवरी (हि.स.)। प्रदेश सरकार द्वारा आम जनमानस को उनके घरद्वार पर समस्याओं के निवारण के लिए पुनः आरम्भ किए गए जनमंच कार्यक्रम के तहत रविवार को जिला शिमला के शिमला ग्रामीण के विकास खण्ड बसन्तपुर की करयाली पंचायत में 20वां जनंमच कार्यक्रम आयोजित किया गया। जनमंच कार्यक्रम की अध्यक्षता हिमाचल प्रदेश छठे वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने की। जनमंच में 73 शिकायतें प्राप्त हुई है, जिनमें से 29 का निपटारा किया जा चुका है, शेष शिकायतों के निपटारे के लिए संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। इसके अतिरिक्त 66 विभिन्न मांगों के आवेदन भी प्राप्त हुए हैं, जिनमें से 18 का निपटारा कर दिया गया है। मौके पर 15 शिकायतें तथा 38 मांगे प्राप्त हुई है। इस अवसर पर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा 25 आयुष्मान कार्ड बनाए गए तथा 100 लोगों की स्वास्थ्य जांच की गई। आयुष (आयुर्वेद) विभाग द्वारा 190 लोगों की स्वास्थ्य जांच की गई तथा निःशुल्क दवाइयां वितरित की गई। इस दौरान 14 विभिन्न प्रमाण पत्र व 72 बागवानी पत्र जारी किए गए। 13 इंतकाल 6 रजिस्ट्री, दो आधार कार्ड, 7 अपंगता प्रमाण पत्र, 7 विधवा पेंशन जारी किए गए। ममता संस्था द्वारा 56 शुगर जांच तथा 47 ब्लड प्रेशर जांच की गई। सतपाल सत्ती ने जनमंच में उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार की प्राथमिकताओं में शामिल जन हितेषी योजना जनमंच कार्यक्रम को पुनः आरम्भ कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि सरकार का मुख्य उद्देश्य प्रदेश की जनता को उनके घरद्वार पर सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध करवाने के साथ-साथ मौके पर ही हिमाचली प्रमाण-पत्र, आमदनी प्रमाण-पत्र, अनुसूचित जाति व जनजाति प्रमाण-पत्र, वृद्धा पेंशन व विधवा पेंशन, मकान निर्माण के लिए आर्थिक सहायता, विधिक सहायता, बागवानी व किसान क्रेडिट कार्ड, अपंगता प्रमाण-पत्र, आधार कार्ड कोरेक्शन तथा स्वास्थ्य जांच की सुविधा भी उपलब्ध करवाई गई है। उन्होंने कहा कि विभिन्न विभागों के तहत कार्यपूर्ति के लिए ठेकेदार भी कार्यों को तुरन्त प्रभाव से करें ताकि लोगों को जल्द इसका लाभ मिल सके। उन्होंने कहा कि जो शिकायतें लम्बित रह गई है, उनका तुरन्त निपटारा सुनिश्चित करंे और उपायुक्त इसकी निगरानी स्वयं करे। हिन्दुस्थान समाचार/उज्ज्वल/सुनील-hindusthansamachar.in