कुटिया में लगी आग में जिंदा जला साधु

 कुटिया में लगी आग में जिंदा जला साधु
sadhu-burnt-alive-in-the-fire-in-the-hut

कुल्लू, 20 जून (हि.स.)। कुल्लू मुख्यालय से मात्र चार किलोमीटर की दूरी पर हुए अग्निकांड में साधु बाबा की जिंदा जलने से मौत हो गई। आग किस कारण से लगी इस बारे में पुलिस जांच कर रही है। दर्दनाक घटना रविवार को घटित हुई जब अग्निशमन व पुलिस को सूचना मिली कि कुल्लू- मनाली सड़क मार्ग पर स्थित बाशिंग पंचायत के अंतर्गत महादेवी तीर्थ वैष्णव मंदिर के समीप साधु बाबा की कुटिया में आग लगी हुई है। सूचना मिलते ही पुलिस व अग्निशमन कर्मियों का दल मौका पर पहुंच गया व कुटिया में लगी आग को बुझाने का प्रयास शुरू कर दिया गया। कड़ी मेहनत के पश्चात आग की लपटों को शांत किया गया लेकिन जब कुटिया में देखा तो साधु बाबा की जिंदा जलने से मौत हो चुकी थी। हैड कांस्टेबल पुणे राम के नेतृत्व में पुलिस दल द्वारा सभी तथ्यों की जांच के बाद मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस अधीक्षक गौरव सिंह ने बताया कि मृतक साधु बाबा की पहचान विष्णु (72) निवासी कांगड़ा के रूप में हुई है। साधु पिछले करीब 20 साल से यहां हनुमान मंदिर के साथ की कुटिया में रहता था। पुलिस द्वारा पोस्टमार्टम की प्रक्रिया पूरी की जा रही है। हिन्दुस्थान समाचार / जसपाल/सुनील

अन्य खबरें

No stories found.