कांगड़ा के स्कूलों को आदेश, दिन में दो घंटे ही चलाएं आनलाइन कक्षाएं

कांगड़ा के स्कूलों को आदेश, दिन में दो घंटे ही चलाएं आनलाइन कक्षाएं
order-to-schools-in-kangra-run-online-classes-only-for-two-hours-a-day

धर्मशाला, 13 मई (हि.स.)। कोरोना काल के चलते चल रही स्कूलों की आनलाइन कक्षाएं दिन में दो घंटें तथा सप्ताह में पांच दिन आयोजित करने के जिला प्रशासन ने निर्देश दिए हैं ताकि बच्चों की आंखों पर ज्यादा प्रभाव नहीं पड़े। इस बाबत अभिभावकों द्वारा भी प्रशासन से डिजीटल कक्षाओं की अवधि कम करने बारे मांग की गई थी। उपायुक्त कांगड़ा राकेश प्रजापति ने कहा कि कांगड़ा जिला में आवश्यक दवाइयों तथा चिकित्सा उपकरणोें की निर्धारित दामों पर ही बिक्री सुनिश्चित करने के लिए ड्रग कंट्रोलर को दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं ताकि किसी भी स्तर पर लोगों से मनमाने दाम नहीं वसूले जाएं। इस के लिए निरीक्षण की नियमित रिपोर्ट भी भेजने को कहा गया है। उन्होंने कहा कि सब्जी तथा आवश्यक खाद्य सामग्री की वस्तुओं की दुकानों पर भी रेटलिस्ट लगाना अनिवार्य किया गया है इस के लिए एपीएमसी तथा खाद्य आपूर्ति विभाग को उचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं। उपायुक्त ने कहा कि कांगड़ा जिला में कोरोना पाॅजिटिव के मामलों में बढ़ोतरी हो रही है तथा अब तक जिला में कुल 31855 संक्रमित मामले हैं जिनमें 12 हजार से अधिक एक्टिव मामले हैं। वहीं 18 वर्ष की आयु के नीचे के 1955 बच्चे भी संक्रमित हैं। उन्होंने कहा कि टेस्टिंग की संख्या में बढ़ोतरी की गई है तथा जिन भी लोगों का आरटीपीसीआर टेस्ट करवाया जा रहा है वे सब लोग टेस्ट की रिपोर्ट आने तक घर में ही रहें जब रिपोर्ट नेगेटिव आए तभी ही बाहर निकलें। उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि कोविड टीकाकरण केंद्रों को भी अब अस्पतालों से शिफट करके नजदीकी स्कूलों या सामुदायिक भवनों में करवाने के आदेश दिए गए हैं ताकि लोगों को किसी तरह की दिक्कत नहीं हो। इसमें भी टीकाकरण केंद्रों पर तीन पंक्तियां निर्धारित की जाएंगी जिसमें एक पंक्ति में 18 से 45 वर्ष आयुवर्ग के लोग, 45 से 60 वर्ष आयुवर्ग के अलग पंक्ति तथा 60 आयुवर्ग से उपर के लिए अलग पंक्ति बनाई जाएगी ताकि टीकाकरण व्यस्थित तरीके से हो सके। उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि अस्पतालों में शव वाहन तथा एंबुलेंस सेवा प्रदान की जा रही है तथा निजी तौर पर शव वाहन, एंबुलेस के लिए भी रेट निर्धारित कर दिए गए हैं जिसमें दस किलोमीटर तक 600 रूपये तथा इसके पश्चात छोटी गाड़ियों के दस रूपये प्रतिकिलोमीटर तथा बड़ी गाड़ियों के लिए 15 रूपये प्रतिकिलोमीटर जबकि वेंटिलेटर तथा आक्सीजन की सुविधा वाली गाड़ियों के लिए प्रतिकिलोमीटर 40 रूपये की दरें निर्धारित की गई हैं। हिन्दुस्थान समाचार/सतेंद्र/सुनील

अन्य खबरें

No stories found.