हिमाचल में भारी बारिश का येलो व आरेंज अलर्ट, 101 सड़कों पर यातायात ठप
हिमाचल में भारी बारिश का येलो व आरेंज अलर्ट, 101 सड़कों पर यातायात ठप
हिमाचल-प्रदेश

हिमाचल में भारी बारिश का येलो व आरेंज अलर्ट, 101 सड़कों पर यातायात ठप

news

शिमला, 27 जुलाई (हि.स.)। हिमाचल प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में मूसलाधार बारिश का अनुमान लगाते हुए मौसम विभाग ने आगामी 31 जुलाई तक अलर्ट जारी किया है। शिमला सहित मध्यपर्वतीय क्षेत्रों में इस दौरान भारी बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग शिमला के निदेशक मनमोहन सिंह ने सोमवार बताया कि मध्यपर्वतीय क्षेत्रों में 31 जुलाई तक भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया गया है। यह अलर्ट शिमला, मंडी और कुल्लू सहित चंबा, सोलन व सिरमौर के कुछ क्षेत्रों के लिए जारी हुआ है। उन्होंने कहा कि 29 जुलाई को मैदानी और मध्यपर्वतीय क्षेत्रों के तहत आने वाले 10 जिलों में भारी बारिश का आरेंज अलर्ट रहेगा। यानी इस दिन जनजातीय जिलों लाहौल-स्पीति व किन्नौर को छोड़कर अन्य सभी जिलों में व्यापक बारिश के आसार हैं। आगामी दो अगस्त तक राज्य में जमकर बरसात होने की संभावना जताई गई है। बीते 24 घंटों में पालमपुर में सर्वाधिक 85, जोगेंद्रनगर में 70, धर्मशाला में 54, बंजार में 27, बांगटू में 25, गग्गल में 24, बलद्वारा में 22, अर्की में 15, गोहर में 12, पांवटा साहिब व जंजैहली में नौ, शिमला व सराहन में आठ मिमी बारिश रिकार्ड हुई है। इस बीच राज्य में बारिश और भूस्खलन से सड़कों के बंद होने का सिलसिला जारी है। लोनिवि से मिली जानकारी के मुताबिक 101 सड़कों पर आवाजाही ठप है। लोनिर्माण विभाग के मंडी जोन में सर्वाधिक 70 सड़कें मलबा गिने से बंद हुई हैं। जिसमें से 74 सड़कें अकेले मंडी सर्कल से हैं। इसके अलावा शिमला जोरन 12, कांगड़ा जोन से आठ और हमीरपुर जोन से तीन सड़कों पर यातायात ठप है। विभाग ने 160 जेसीबी, डोजर व टिप्पर सड़कों की बहाली के लिए लगाए हैं। मानसूनी बारिश से लोनिवि को अब तक 4437.96 लाख का नुकसान हो चुका है। हिन्दुस्थान समाचार/उज्जवल/सुनील-hindusthansamachar.in