मंडी जिला में चरणबद्ध तरीके से बढ़ाई जा रही है ऑक्सीजन युक्त बिस्तरों की संख्या : ऋग्वेद ठाकुर
number-of-oxygen-rich-beds-is-being-increased-in-mandi-district-in-a-phased-manner-rigveda-thakur

मंडी जिला में चरणबद्ध तरीके से बढ़ाई जा रही है ऑक्सीजन युक्त बिस्तरों की संख्या : ऋग्वेद ठाकुर

मंडी, 03 मई (हि. स.)। उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने कहा कि मंडी जिला में ऑक्सीजन युक्त बिस्तरों की सं या चरणबद्ध तरीके से बढ़ाई जा रही है। श्री लाल बहाुदर शास्त्री राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल नेरचौक में ऑक्सीजन युक्त बिस्तरों की सुविधा को 120 बिस्तरों से बढ़ा कर 220 किया गया है। आगे इसे बढ़ा कर 300 करने के प्रयास किए जा रहे हैं। बता दें, नेरचौक अस्पताल में अभी मंडी जिला के करीब 100 कोरोना संक्रमित मरीज उपचाराधीन हैं। वहीं नेरचौक अस्पताल के अतिरिक्त जिला में और 135 ऑक्सीजन युक्त बिस्तरों की सुविधा उपलब्ध करवाई गई है। इनमें बीबीएमबी अस्पताल सुन्दरनगर में 40, मातृ-शिशु अस्पताल सुन्दरनगर में 50 बिस्तर हैं। नागरिक चिकित्सालय रत्ती में ऑक्सीजन युक्त बिस्तरों की सं या को 25 से बढ़ा कर 45 किया गया है। इन अस्पतालों में 88 मरीज उपचाराधीन हैं। अन्य बैड अभी रिक्त हैं। इसलिए जिला में ऑक्सीजन युक्त बिस्तरों की कोई कमी नहीं है। उपायुक्त ने कहा कि इसी हफ्ते मेक शिफ्ट अस्पताल भंगरोटू चालू हो जाएगा। आरंभ में इसमें 80 से 90 ऑक्सीजन युक्त बिस्तरों की सुविधा शुरू होगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के निर्देशानुसार राधा स्वामी सतसंग ब्यास खलियार में भी ऑक्सीजन युक्त 200 बिस्तरों का मेक शिफ्ट अस्पताल बनाया जा रहा है। इसका काम सोमवार से शुरू हो गया है। अगले 10 से 15 दिनों में यह बन कर तैयार हो जाएगा। ऋ ग्वेद ठाकुर ने कहा कि जिला प्रशासन कोरोना से उत्पन्न चुनौतियों के समाधान के साथ साथ क्षमता विकास पर बल दे रहा है। उन्होंने बताया कि जिला में चिकित्सकीय उपयोग हेतु ऑक्सीजन निर्माण की अच्छी क्षमता है । इसे और बढ़ाने तथा ऑक्सीजन सिलेंडरों की संख्या में इजाफा करने के प्रयास किए जा रहे हैं। जिला में प्रतिदिन 1600 आक्सीजन सिलैंडर जाते हैं। इसे और बढ़ाने का कार्य किया जा रहा है। हिन्दुस्थान समाचार/मुरारी/सुनील

No stories found.