कांग्रेस शासित प्रदेशों में राजनीतिक अस्थिरता पैदा कर रही मोदी सरकार : कुलदीप सिंह राठौर
कांग्रेस शासित प्रदेशों में राजनीतिक अस्थिरता पैदा कर रही मोदी सरकार : कुलदीप सिंह राठौर
हिमाचल-प्रदेश

कांग्रेस शासित प्रदेशों में राजनीतिक अस्थिरता पैदा कर रही मोदी सरकार : कुलदीप सिंह राठौर

news

शिमला, 27 जुलाई (हि.स.)। कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि भाजपा देश मे कांग्रेस शासित राज्यों में राजनैतिक अस्थिरता पैदा कर वहां की सरकारों को गिराने के षडयंत्र रच रही है। सोमवार को शिमला में राजभवन के बाहर लोकतंत्र बचाओ अभियान के तहत पार्टी के धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए राठौर ने केंद्र की मोदी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कांग्रेस किसी भी कीमत पर देश के लोकतंत्र को कमजोर नही होने देगी। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार जिस प्रकार से देश मे विपक्षी दलों विशेषकर कांग्रेस पार्टी को तोड़ने व कमजोर करने में लगी है उसमें वह कभी भी सफल नही होगी। उन्होंने कहा कि जोड़-तोड़ की राजनीति ज्यादा दिनों तक नही चलती। राठौर ने कहा कि पहले गोवा में कांग्रेस के सबसे बड़े दल को सरकार बनाने से दरकिनार किया गया बाद में कर्नाटक, मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार को अस्थिर किया गया और अब राज्यस्थान में कांग्रेस की सरकार को कमजोर करने की पूरी कोशिश की जा रही है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार देश की संवैधानिक संस्थाओं को भी कमजोर कर रही है। अभिव्यक्ति की आजादी पर पूरा अंकुश है। राठौर ने कहा कि आज राजभवनों की स्वतयत्ता को भी कमजोर करने की कोशिश भाजपा द्वारा की जा रही है। देश के राष्ट्रपति या प्रदेश के राज्यपाल की एक ऐसी सर्वोच्च मर्यादा है जो देश के लोकतंत्र को सरंक्षित करते है। उन्होंने कहा कि आज कांग्रेस को इनके दरवार में देश के लोकतंत्र को बचाने की गुहार करनी पड़ रही है। उन्होंने कहा कि वह प्रदेश के राज्यपाल की मार्फत देश के राष्ट्रपति से गुहार लगा रहें है कि वह राज्यों के राज्यपालों से अपने संवेधानिक अधिकारों का पूरी निष्पक्षता के साथ पूरा करने को कहें।उन्होंने कहा कि राजस्थान में राज्यपाल का कांग्रेस सरकार के प्रति पक्षपात पूर्ण रुवीया है।मुख्यमंत्री के आग्रह के बाद वहां विधानसभा का सत्र नही बुलाया जा रहा है। राठौर ने कहा कि आज देश गंभीर चुनौती से गुजर रहा है। इसकी कसूर बार भी मोदी सरकार ही है। उन्होंने कहा कि समय रहते कोविड 19 को लेकर अगर राहुल गांधी की चेतावनी पर सरकार न गौर किया होता तो आज यह स्थिति देश की न होती। उस समय मोदी सरकार मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार गिराने और अपनी भाजपा की सरकार बनाने के ताने बाने में लगी थी।उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने इस देश की आजादी की लड़ाई लड़ी है और वह इस देश के लोकतंत्र को किसी भी कीमत पर ध्वस्त नही होने देगी। हिन्दुस्थान समाचार/उज्जवल/सुनील-hindusthansamachar.in