निर्वासित तिब्बत संसद के सदस्यों ने ली पद व गोपनीयता की शपथ

निर्वासित तिब्बत संसद के सदस्यों ने ली पद व गोपनीयता की शपथ
members-of-the-exiled-tibet-parliament-took-the-oath-of-office-and-secrecy

धर्मशाला, 08 जून (हि.स.) । केंद्रीय निर्वासित तिब्बत संसद के सदस्यों ने मंगलवार को पद व गोपनीयता की शपथ ली। शपथ सादे सामारोह में दी गई। जिस जगह शपथ दिलवाई गई वहां पर कोविड-19 नियमों के चलते अन्य किसी को भी भीतर जाने की इजाजत नहीं दी गई। सांसदों को भी प्रोटोकॉल के चलते एक कमरे में चार-चार सांसदों को बैठाया गया और चार-चार को ही शपथ दिलवाई गई। प्रोटेम स्पीकर दावा सेरिंग ने सांसदों को शपथ दिलवाई। मीडिया सहित अन्य लोगों को भीतर प्रवेश नहीं दिया गया। कोविड-19 के चलते सादा कार्यक्रम आयोजित किया गया। केंद्रीय निर्वासित तिब्बत संसद में कुल 45 सांसद चुनकर आए हैं। इन सभी को आज शपथ दिलवाई गई। पहले यह शपथ ग्रहण समारोह 30 मई को होना था, लेकिन कोविड-19 नियमों को ध्यान में रखते हुए तिब्बती प्रशासन ने इस शपथ ग्रहण समारोह को आठ जून तक टाल दिया। अब आज यह कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें कोविड-19 नियमों की पूरी तरह से पालना की गई। उधर आज ही संसद के लिए अध्यक्ष व उपाध्यक्ष पद का चुनाव होना है। वहीं केंद्रीय तिब्बत निर्वासित सरकार के मंत्रिमंडल का विस्तार करना है, लेकिन अभी तक विस्तार नहीं हो सका है। अभी सारी कार्यवाही चली हुई है। अध्यक्ष व उपाध्यक्ष के चुनाव के साथ-साथ मंत्रिमंडल का विस्तार भी आज हो सकता है। अध्यक्ष पद की दौड़ में डोलमा छेरिंग व सोनम तोके का नाम शीर्ष पर है। हालांकि तिब्बती सांसदों में न्यायधीशों को हटाने व प्रोटेम स्पीकर को लेकर कुछ कड़वाहट जरूर है। यह कड़वाहट तिब्बती संसद के शपथ ग्रहण समारोह में भी दिखी है। हिन्दुस्थान समाचार/सतेंद्र/सुनील